नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2022 में राम मंदिर का मुख्य मुद्दा है। इसको लेकर सोशल मीडिया पर भी एक पोस्ट वायरल हो रही है। इसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी की फोटो पोस्ट की गई है। साथ में दावा किया गया है कि अंबानी परिवार ने अयोध्या में राम मंदिर की बिजली आपूर्ति के लिए सौर ऊर्जा का प्लांट लगाने का ऐलान किया था।

दैनिक जागरण की फैक्ट चेकिंग वेबसाइट 'विश्वास न्यूज' ने अपनी पड़ताल में वायरल दावे को गलत पाया। अंबानी परिवार ने इस तरह का कोई भी ऐलान नहीं किया था।

वायरल दावे की पड़ताल के लिए 'विश्वास न्यूज' ने सबसे पहले कीवर्ड से न्यूज सर्च की। इसमें हमें कोई भी ऐसी रिपोर्ट नहीं मिली, जिससे साबित हो सके कि अंबानी परिवार ने अयोध्या में सोलर प्लांट लगाने का ऐलान किया था।

इसकी और पड़ताल करने के लिए दूसरे कीवर्ड से सर्च जारी रखी। इसमें दैनिक जागरण में 17 जुलाई 2021 को छपी खबर का लिंक मिला। इसके मुताबिक, अयोध्या को सोलर सिटी के रूप में डेवलप करने की योजना तैयार की गई है। इसके तहत शहर को सोलर लाइट से चमकाने की तैयारी है। इसके लिए सौर ऊर्जा विभाग सर्वे कर चुका है। सीएम योगी आदित्यनाथ खुद इस पर नजर रखे हुए हैं।

रिलायंस कम्युनिकेशन ने भी इस बात की पुष्टि की है कि कंपनी की तरफ से ऐसा कोई बयान नहीं दिया गया है।

इसकी और पुष्टि के लिए 'विश्वास न्यूज' ने राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य डॉ. अनिल मिश्रा से भी संपर्क साधा। उन्होंने कहा, अंबानी परिवार राम मंदिर में कोई सोलर प्लांट नहीं लगा रहा है। यह दावा गलत है।

'विश्वास न्यूज' ने फैजाबाद दैनिक जागरण के ब्यूरो चीफ रमाशरण अवस्थी से भी बात की। उनका कहना है, यह योजना सरकार की है। इसमें अंबानी परिवार द्वारा सोलर प्लांट लगवाने के ऐलान की बात गलत है।

इस पूरी खबर को विस्तार से विश्वास न्यूज की वेबसाइट पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Edited By: Amit Singh