नई दिल्ली, जेएनएन। अमेज़न प्राइम वीडियो की अपकमिंग वेब सीरीज़ द फैमिली मैन 2 को लेकर विवाद हर गुज़रते दिन के साथ गहराता जा रहा है। सोशल मीडिया में सीरीज़ के बायकॉट की मांग से शुरू हुआ विवाद धीरे-धीरे राजनीतिक रंग ले रहा है, जो आने वाले समय में सीरीज़ की रिलीज़ के लिए संकट का सबब बन सकता है।

डर यह भी है कि विवाद अधिक बढ़ा तो दक्षिण भारत का 'तांडव' बन सकता है। इसीलिए समय रहते सचेत हुए मेकर्स ने एक स्टेटमेंट जारी किया है, जिसमें उन्होंने इस कंट्रोवर्सी पर अपनी सफ़ाई दी है। 

यह स्टेटमेंट सीरीज़ के क्रिएटर्स राज निदीमोरु और कृष्णा डीके (राज एंड डीके) की ओर से जारी किया गया है।  निर्देशक टीम के सदस्य सुपर्ण एस वर्मा ने स्टेटमेंट सोशल मीडिया में शेयर किया है, जिसमें कहा गया है- ट्रेलर में कुछ शॉट्स के आधार पर धारणाएं बना ली गयी हैं। हमारी क्रिएटिव और राइटर टीम के कई सदस्य तमिलभाषी हैं। तमिल संस्कृति और संवेदनाओं की हमें गहरी समझ है और तमिल लोगों के लिए हमारे मन में अपार सम्मान और प्यार है।

हमने इस शो पर कई साल लगाये हैं और अपने दर्शकों के लिए एक संवेदनशील, संतुलित और असरदार कहानी लाने के लिए कड़ी मेहनत की है, जैसा कि पहले सीज़न में किया था। हम सभी लोगों से गुज़ारिश करते हैं कि शो रिलीज़ होने तक इंतज़ार कीजिए। हम जानते हैं कि आप जब देखेंगे तो इसकी प्रशंसा करेंगे। 

द फैमिली मैन का निर्देशन राज एंड डीके ने किया है। सीरीज़ में मनोज बाजपेयी एक गुप्तचर संस्था के सीनियर एनालिस्ट का रोल निभा रहे हैं। द फैमिली मैन 2 सीरीज़ 4 जून को स्ट्रीम की जाएगी।

क्या है विवाद

द फैमिली मैन 2 का ट्रेलर 19 मई को रिलीज़ किया गया था। रिलीज़ के साथ ही सामंथा अक्कीनेनी को किरदार को लेकर सोशल मीडिया में विरोध शुरू हो गया था। ट्विटर पर वेब सीरीज़ का बायकॉट करने के लिए हैशटैग चलाये गये। सीरीज़ में विरोध की वजह सामंथा अक्कीनेनी का किरदार है, जिन्हें शो में एक आतंकी संगठन का सदस्य दिखाया गया है, जो तमिल समुदाय से है। कुछ दृश्यों में पहनावे की वजह से लिट्टे से भी समानता दिखती है। तमिल भाषी लोगों का कहना है कि सीरीज़ उन्हें ख़राब ढंग से दिखा रही है। तमिलों के संघर्ष का अपमान कर रही है।

बैन करने की मांग

सोशल मीडिया यूज़र्स के की-बोर्ड से निकलकर यह विवाद अब राजनीतिक गलियारों तक पहुंच चुका है। राज्यसभा सांसद वाइको के बाद तमिलनाडु के आईटी मिनिस्टर एम थंगराज ने केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर सीरीज़ को पूरे भारत में बैन करने की मांग की है।

थंगराज की ओर से भेजे गये पत्र में कहा गया है कि द फैमिली मैन 2 सीरीज़ में तमिल क्षेत्रों को बेहद ख़राब ढंग से दिखाया गया है। श्रीलंका में तमिल लोगों के ऐतिहासिक संघर्ष को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया है। उनके बलिदान और प्रजातांत्रिक संघर्ष को जान-बूझकर कम आंका गया है। ऐसे सीरियल, जिसमें गौरवशाली तमिल संस्कृति को अपमानजनक तरीक़े से दिखाया गया हो, उसको प्रसारित नहीं किया जा सकता। तमिल बोलने वाली एक्ट्रेस सामंथा को सीधे आतंकी दिखाया जाना, तमिलों के सम्मान पर आघात है। कोई भी इस अपमान को बर्दाश्त नहीं करेगा।

बता दें, जनवरी में अमेज़न प्राइम की वेब सीरीज़ तांडव को लेकर काफ़ी बवाल हो चुका है, जिसके बाद प्लेटफॉर्म ने द फैमिली मैन 2 की रिलीज़ को स्थगित कर दिया था। सीरीज़ पहले 12 फरवरी को आने वाली थी। मेकर्स ने सीरीज़ को किसी भी तरह के विवाद से बचाने के लिए काफ़ी सतर्कता बरती और पूरा फुटेज भी चेक किया था, मगर विवाद को फिर भी रोक नहीं सके। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप