नई दिल्ली, जेएनएन। अमेज़न प्राइम वीडियो की वेब सीरीज़ द फैमिली मैन 2 को लेकर बवाल बढ़ता ही जा रहा है। इस बार विरोध की लहर दक्षिण भारत से उठी है, जहां वेब सीरीज़ को लेकर राजनीतिक विरोध बढ़ रहा है। राज्यसभा सांसद वाइको के बाद अब तमिलनाडु के मंत्री ने भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर सीरीज़ पर बैन लगाने की मांग की है। 

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, तमिलनाडु के आईटी मिनिस्टर एम थंगराज की ओर से भेजे गये पत्र में कहा गया है कि द फैमिली मैन 2 सीरीज़ में तमिल क्षेत्रों को बेहद ख़राब ढंग से दिखाया गया है। श्रीलंका में तमिल लोगों के ऐतिहासिक संघर्ष को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया है। उनके बलिदान और प्रजातांत्रिक संघर्ष को जान-बूझकर कम आंका गया है।

ऐसे सीरियल, जिसमें गौरवशाली तमिल संस्कृति को अपमानजनक तरीक़े से दिखाया गया हो, उसको प्रसारित नहीं किया जा सकता। तमिल बोलने वाली एक्ट्रेस सामंथा को सीधे आतंकी दिखाया जाना, तमिलों के सम्मान पर आघात है। कोई भी इस अपमान को बर्दाश्त नहीं करेगा।

ट्रेलर ने तमिलनाडु राज्य के राजनीतिक दलों को पहले ही उकसा दिया है। एक और हमारे तमिल भाई न्याय और बराबरी के लिए सालों से संघर्ष कर रहे हैं, वहीं, अमेज़न प्राइम जैसे संगठन उनके ख़िलाफ़ दुर्भावनापूर्ण अभियान चला रहे हैं। मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि द फैमिली मैन 2 को तमिलनाडु ही नहीं, पूरे देश में बैन कर देना चाहिए। 

द फैमिली मैन का निर्देशन राज एंड डीके ने किया है। सीरीज़ में मनोज बाजपेयी एक गुप्तचर संस्था के सीनियर एनालिस्ट का रोल निभा रहे हैं, जबकि सामंथा अक्कीनेकी के किरदार को एक आतंकी संगठन की सदस्य दिखाया गया है। सीरीज़ का ट्रेलर 19 मई को रिलीज़ किया गया था और तभी से तमिल समुदाय के लोगों की ओर से विरोध किया जा रहा है। द फैमिली मैन 2 सीरीज़ 4 जून को स्ट्रीम की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप