नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड में इन दिनों नई परंपरा शुरू करने पर मंथन चल रहा है। दरअसल, फिल्मों को थिएटर से पहले ओटीटी प्लेटफॉर्म पर लाने की योजना बन रही है। लॉकडाउन के चलते कई फिल्मों की रिलीज रुक गई है। मौजूदा हालात को देखते हुए हॉलीवुड ने थिएटर में आने से पहले ही अपनी एक बड़े बजट की फिल्म को ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर दिया है। अब बॉलीवुड की बारी है।

कोरोना वायरस के चलते देश में 21 दिनों का लॉकडाउन पूरा होने के बाद इसकी समय सीमा 3 मई तक बढ़ा दी गई है। ऐसे में लोग अपने घरों में रहकर ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्में और वेबसीरीज एंजॉय कर रहे हैं। इस मौके को भुनाने में नेटफ्ल्क्सि, अमेजन प्राइम वीडियो, जी5 समेत अन्य डिजिटल प्लेटफॉर्म ने कोई कसर नहीं छोड़ी है।

इन डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अप्रैल की शुरुआत से ही लगभग हर दिन कोई न कोई वेब सीरीज या फिर ​फिल्म रिलीज हो रही है। मौजूदा हालात को देखते हुए हॉलीवुड की मशहूर फिल्म निर्माता कंपनी डिज्नी ने अपनी फिल्म आर्टेमिस फॉउल Artemis Fowl को ओटीटी प्लेटफॉर्म Disney+ पर रिलीज करने का फ़ैसला किया है। फ़िल्म 12 जून को इस प्लेटफॉर्म पर आएगी। 125 मिलियन डॉलर में बनी यह महंगी फिल्म 29 मई को थिएटर्स में रिलीज़ होने वाली थी।

ऐसे में इस बात की चर्चा बढ़ गई है कि जब हॉलीवुड ऐसा काम कर सकता है तो बॉलीवुड क्यों नहीं कर सकता है। फ़िल्म इनफॉर्मेशन डॉट कॉम के अनुसार, ऐसा करने के लिए मेकर्स को दिल बड़ा करना होगा। उनके अनुसार इससे फिल्म प्रमोशन में होने वाले खर्चे से भी बचा जा सकता है। बॉलीवुड की कई मोस्ट अवेटेड और हाई बजट की फिल्में बनकर तैयार हैं।

हालांकि एक पहलू यह भी है कि बड़े बजट की फ़िल्मों के लिए जो कमाई ओवरसीज़ और थिएट्रिकल रिलीज़ से होती है, वो ओटीटी प्लेटफॉर्म से होना मुश्किल है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021