नई दिल्ली, जेएनएन। टीवी पर भगवान शिव के विभिन्न रूपों और किरदारों को अभिनेता तरुण खन्ना ने कई बार निभाया है। वो अब तक 8 बार भगवान शिव का किरदार कई सीरियल्स में निभा चुके हैं, जो दरअसल उनकी पहचान बन गया है। 

एक बार फिर से तरुण खन्ना दंगल टीवी के सीरियल 'देवी आदि पराशक्ति' में शिव भगवान बने हैं। लॉकडाउन के चलते तरूण अपने घर में फंसे हैं। मौजूदा हालात जहां पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का कहर है, वहां तरुण ने पौराणिक कथा से जोड़ कर इस वायरस के वार को समझाया है।

तरूण ने वायरस की तुलना पौराणिक कथा के एक राक्षस रक्तबीज से की है। तरूण का कहना है, "यह तीसरा विश्व युद्ध है। दुश्मन (वायरस) ने एक साथ सारे विश्व पर हमला कर दिया है। ये अदृश्य दुश्मन (वायरस) छुप कर वार कर रहा है। रक्तबीज नाम का ऐसा ही एक राक्षस हिंदू पौराणिक कथाओं में भी था, जिसे बह्मा जी ने वरदान दिया था कि जहां भी उसके खून की एक भी बूंद गिरेगी, वहां उसके जैसा एक और राक्षस बन जायगा, जो अजर और अमर होगा।

तरूण आगे कहते हैं कि अंत में महादेव के कहने पर माता काली ने रक्तबीज का वध किया था। शक्ति की अवतार मां काली ने रक्तबीज का रक्त का पान किया ताकि उसके शरीर की एक भी बूंद धरती का स्पर्श ना कर सके। मुझे लगता है कि मां दुर्गा हम सब के अंदर हैं और हम सब में ताकत है। इस रक्तबीज राक्षस यानि कोरोना वायरस को खत्म करने की। बस हमें घर पर रहना है। हालांकि रोज कमा कर घर चलाने वालों के लिए ये काफी मुश्किल है, पर समझना होगा कि जान है तो जहान है। मेरी तरफ से सभी को शुभकामनाएं कि सारा विश्व मिलकर इस वायरस से लड़ाई जीते।"

लॉकडाउन के चलते टीवी और फ़िल्म इंडस्ट्री में कामकाज बंद है। धारावाहिकों की शूटिंग भी नहीं की जा रही है और सभी कलाकार सेल्फ़ आइसोलेशन में हैं। 

Posted By: Manoj Vashisth

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस