नई दिल्ली,जेएनएन। रामायण के प्रसारण को लेकर दर्शकों के बीच एक क्रेज देखा जा रहा है। कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन में रामानंद सागर के इस शो को वापस से प्रसारित किया गया है। इसको लेकर सोशल मीडिया पर भारी डिमांड थी। टेलीकास्ट होते ही सीरियल ने टीआरपी के रिकॉर्ड भी तोड़ दिए।  पिछले पांच साल का सबसे ज्यादा टीआरपी हासिल करने वाला शो बन गया है। लेकिन इस बीच दूरदर्शन पर इस शो के प्रसारण को लेकर लापरवाही के आरोप लग रहे हैं। सोशल मीडिया पर दूरदर्शन से सवाल पूछे जा रहे हैं। 

बेस्ट फ़िल्म क्रिटिक का नेशनल अवॉर्ड जीतने वाले अंनत विजय ने एक के बाद एक ट्वीट करके कई सवाल खड़े किए। उन्होंने ट्वीट करके लिखा- 'डीडी नेशनल रामायण के प्रसारण को लेकर कितना लापरवाह है ये जानते हुए कि प्रकाश जावड़ेकर ये सीरियल देखते हैं। रामनवमी के दिन जब हर घर में रामजन्म का उत्सव मनाया जा रहा था, दूरदर्शन पर दशरथ की अंत्येष्टि हो रही थी, भए प्रकट कृपाला की जगह शोक धुन बजता रहा घंटे भर।' 

इसे भी पढ़ें- 'राम' ने आख़िरकार जीत ली ट्विटर की जंग, फ़र्ज़ी एकाउंट हुआ बंद, जानिए क्या है असली

इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया जिसमें सीरियल के एपिसोड प्रसारण क्रम पर भी सवाल उठाए गए। उन्होंने लिखा-'कल रात को सुग्रीव का राज्याभिषेक करवाकर चातुर्मास संवाद के बाद आज फिर से बाली वध के प्रसंग से दिखाना शुरू कर दिया। हद है, कोई तो देख लो भाई कि क्या चला रहे हो?' उन्होंने अपने ट्वीट में प्रसार भारती और प्रसारण मंत्रालय को टैग भी किया। 

उनके ट्वीट पर कुछ यूजर्स के जवाब भी आए। एक यूजर ने बताया कि कल बाली का अंतिम संवाद भी पूर्ण नहीं दिखाया और ना ही बाली का अंतिम संस्कार। इस पर अंनत विजय ने लिखा कि इसका मतलब कल लापरवाही हुई। हालांकि, इन आरोपों पर अभी तक किसी ऑफ़िशियल का जवाब नहीं आया है। 

गौरतलब है कि लॉकडाउन के बाद से दूरदर्शन पर कई पुराने शोज़ का प्रसारण हो रहा है। इसमें रामायण के अलावा महाभारत, शक्तिमान, चित्रहार, फौजी, सर्कस, ब्योमकेश बक्शी और देख भाई देख जैसे शोज़ शामिल हैं।

Posted By: Rajat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस