नई दिल्ली, जेएनएन। टीवी के रियलिटी शो बिग बॉस 15 में हर दिन कंटेस्टेंट्स के बीच काफी हंगामा देखने को मिलता है। शो में कई कंटेस्टेंट्स हैं जो अपने खेल और रणनीति के अलावा झगड़ा करने की वजह से भी चर्चा में रहते हैं। हाल ही में सलमान खान के इस शो में एक बार फिर प्रतीक सहजपाल और जय भानुशाली को लड़ते हुए देखा गया था। इस दौरान जय ने प्रतीक को मां की गाली दे दी थी।

जिसके बाद प्रतीक सहजपाल बिग बॉस 15 के घर में फूट-फूटकर रोने लगे। वहीं जय भानुशाली की ओर से मां की गाली देने पर बिग बॉस 15 के अन्य कंटेस्टेंट्स के अलावा शो के बाहर भी कई सितारे अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। बिग बॉस की पूर्व कंटेस्टेंट और टीवी अभिनेत्री काम्या पंजाबी ने भी जय भानुशाली के प्रतीक सहजपाल को गाली देने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

दरअसल काम्या पंजाबी ने हाल ही में क्रिकेट पर बात करते हुए गाली को लेकर अपनी राय लिखी। जिसके बाद एक सोशल मीडिया यूजर्स उनके उस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उस बात का जिक्र किया जब बिग बॉस के घर में अरमान कोहली ने काम्या पंजाबी को गाली दी थी। यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा, 'अरमान के 'डिवॉर्सी' बोलने पर आप ने पूरा घर सिर पर चढ़ा लिया था। उस समय पूरा घर अरमान के खिलाफ हो गया था, क्रिकेट की बिग बॉस से तुलना मत को।'

सोशल मीडिया यूजर्स के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए काम्या पंजाबी ने बेबाकी से अपनी राय लिखी है। उन्होंने बिग बॉस के घर में गाली देने को लेकर लिखा, 'अरमान ने सिर्फ डिवॉर्सी नहीं कहा था, बल्कि बहुत सारी मां बहन की गालियां भी दी थीं। मैं उनके सामने हंस रही थी और अकेले में रो रही थी। मैंने कोई विरोध नहीं दिखाया न कोई बिग बॉस की प्रॉपर्टी तोड़ी। वरना दोनों में फर्क क्या रह जाता ! और गाली तो गाली है न क्रिकेट हो या बिग बॉस।'

सोशल मीडिया पर काम्या पंजाबी का यह ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है। अभिनेत्री के बहुत से फैंस उनके ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। आपको बता दें कि मंगलवार को प्रसारित हुए एपिसोड में बिग बॉस ने ‘घरवासियों’ और ‘जंगलवासियों’ को एक टास्क दिया था जिसका नाम था 'जंगल में खुंखार दंगल'। इस टास्क को दो टीमों में बांटा गया। एक टीम जंगलवासियों की और दूसरी घरवासियों यानी शमिता शेट्टी, प्रतीक सहजपाल और निशांत भट्ट की। टास्क में घरवासियों को जंगलवासियों को अलग-अलग तरह से मारना था, लेकिन ऐसा करने में शमिता की टीम नाकामयाब रहती है और जंगलवासियों की टीम यह टास्क जीत जाती है।

इस दौरान जय भानुशाली प्रतीक सहजपाल से लड़ने लगते हैं। लड़ते हुए वह प्रतीक को मां की गाली दे देते हैं। गाली सुनने के बाद प्रतीक सहजपाल अपना आपा खो देते हैं और जय भानुशाली को दोबारा गाली न देने के लिए चेतावनी देते हैं, लेकिन उनके इस जवाब में जय भानुशाली कहते हैं कि हिम्मत है तो मार कर दिखा। कुछ देर बार प्रतीक सहजपाल फूट-फूटकर रोने लगते हैं और गुस्से में खुद को जोर-जोर से थप्पड़ मारने लगते हैं। 

Edited By: Anand Kashyap