नई दिल्ली, जेएनएन। Kaun Banega Crorepati 12 : अमिताभ बच्चन होस्टेड शो ‘कौन बनेगा करोड़पति‘ का 12वां सीजन भी तेजी से चर्चा में आता जाता हैं। इस सीजन को एक नहीं बल्कि अपना दूसरा करोड़पति भी मिल गया है। नाजिया नसीम के बाद अब आइपीएस अधिकारी मोहिता शर्मा ने एक करोड़ जीत लिया है। वहीं अब ये देखना का काफी दिलचस्प होगा कि क्या मोहिता 7 करोड़ की भारी रकम जीतकर इतिहास रच पाती हैं। सामने आए प्रोमो से अभी ये साफ नहीं हुआ है कि वे सात करोड़ जीत पाती हैं या नहीं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि मोहिता शर्मा से पहले किन-किन सरकारी कर्मचारियों ने केबीसी में हिस्सा लिया और कितनी रकम जीती।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A post shared by Sony Entertainment Television (@sonytvofficial)

सबसे पहले हम बात करते हैं इस केबीसी 12 की मोहिता शर्मा की। दरअसल, सोनी टीवी ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट से एक प्रोमो शेयर किया है। वीडियो में सबसे पहले उन्हें 50 लाख रुपये जीतते हुए दिखाया जाता है। उसके बाद मोहिता एक करोड़ रुपये जीत जाती हैं। अमिताभ कहते हैं, 'ये प्रश्न है एक करोड़ रुपये का। बहुत होशियारी के साथ खेलिएगा।'  

इसके बाद आब प्रोमो में देख सकते हैं कि मोहिता ने केबीसी के 15वें सवाल का सही जवाब देकर 1 करोड़ रुपए जीते हैं। इसके बाद बिग बी उनसे 16वां प्रश्न भी पूछते हैं लेकिन वो 7 करोड़ जीतती हैं या नहीं अभी इस पर सस्पेंस बना हुआ है। इस एपिसोड का प्रसारण सोनी टीवी पर 17 नवंबर को रात 9 बजे होने वाला है। 

आपको बात दें कि मोहिता शर्मा से पहले कई ​सरकारी नौकरी में कार्यरत लोगों ने शो में भाग लिया है। साल 2017 सिविल कर्मचारियों के लिए एक दिलचस्प वर्ष था। 'केबीसी 9' के दौरान ऐसे दो नामों ने बहुत लोकप्रियता हासिल की थी। ये दो कंटेस्टेंट थे अनुराधा अग्रवाल और डॉ. विनय गोयल। अनुराधा अग्रवाल जो कि छत्तीसगढ़ सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) में कार्यरत हैं वो भी इस शो का हिस्सा बनीं। शारीरिक रूप से अक्षम प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर अनुराधा को शो में भाग लेने के लिए कुछ परेशानी से गुजरना पड़ा। वह मुंगेली जिले में कार्यरत थी। आखिरकार, अनुराधा ने रुपए 15 लाख रुपए जीते थे। 

अनुराधा के अलावा केरल कैडर के एक आईएएस अधिकारी डॉ. विनय गोयल भी केबीसी का हिस्सा बनें। उन्होंने 12.50 रुपए जीते। वह तब त्रिशूर के सहायक कलेक्टर के रूप में तैनात थे। डॉ. गोयल ने 13 वें प्रश्न पर खेल छोड़ने का फैसला किया, जो खेल के बारे में था। आपको बता दें कि विनय गोयल ने शो के दौरान ही आर्थिक रूप से पिछड़े समाजों के छात्रों की मदद करने के लिए धन खर्च करने की इच्छा जाहिर की थी। विनय एक प्रैक्टिसिंग डॉक्टर थे और उनके पास एमबीबीएस की डिग्री है, इससे पहले कि वे सिविल सर्विसेज में काम करना चाहते थे।  

वहीं अंबरनाथ नगर पालिका निगम के एक सफाई कर्मचारी मनीष नारायण ने 'केबीसी 10' में भाग लिया था और  12 लाख 50 हजार रुपए जीते।   

वहीं 'केबीसी 4' में एक सरकारी कर्मचारी और इलेक्ट्रिकल इंजीनियर मयंक त्रिवेदी ने शो में भाग लिया और रुपए 25 लाख। 

Bigg Boss

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस