नई दिल्ली, जेएनएन। छोटे पर्दे का लोकप्रिय शो इंडियन आइडल 12 में अक्सर हिंदी सिनेमा के वेटरन एक्टर्स ख़ास मेहमान बनकर पहुंचते हैं और अपने दौर के दिलचस्प क़िस्से सुनाते हैं, जो दर्शकों को अक्सर पता नहीं होते। ऐसा ही एक क़िस्सा रीना रॉय ने सुनाया, जब वो शो में मेहमान बनकर पहुंचीं। रीना ने शो में खुलासा किया कि जीतेंद्र हिंदी सिनेमा के उन एक्टर्स में शामिल हैं, जो वक़्त के पाबंद होते हैं। इस मामले में जम्पिंग जैक अमिताभ बच्चन से भी कुछ क़दम आगे हैं। 

इंडियन आइडल के आने वाले एपिसोड्स में रीना रॉय और संगीतकार बप्पी लाहिड़ी ख़ास मेहमान के रूप में नज़र आएंगे। शो में कंटेस्टेंट दानिश ख़ान रीना के बेहद लोकप्रिय गाने 'आदमी मुसाफ़िर है, आता है जाता है' गाकर उन्हें इम्प्रेस करते हैं।

उनकी तारीफ़ करते हुए रीना कहती हैं कि उन्हें अपने शूटिंग के दिन याद आ गये। रीना इस गाने के बारे में बताती हैं कि गाना कश्मीर में शूट किया गया था और पूरा क्रू एक महीने तक कश्मीर में रुका था। उस वक़्त अधिकर क्रू मेम्बर अपने परिवार और बच्चों को लेकर सेट पर जाते थे और पैकअप के बाद गेम्स खेलते थे। शाम को साढ़े सात बजे तक डिनर कर लिया करते थे। 

रीना ने जीतेंद्र के बारे में कहा- दिवंगत ओमप्रकाश जी की अधिकतर फ़िल्मों में जीतेंद्र मेरे को-एक्टर हुआ करते थे। मेरा यक़ीन कीजिए, मैंने इतना वक़्त का पाबंद एक्टर नहीं देखा। यहां तक कि अमिताभ बच्चन भी नहीं। मुझे अभी भी याद है कि अगर सुबह का शूट होता था तो जीतू हर किसी को 5 बजे उठा दिया करते थे और वो यह सुनिश्चित करते थे कि सब शूट के लिए जल्दी से जल्दी तैयार हो जाएं। इस वजह से हम लोग कई बार तय शेड्यूल से पहले ही शूट ख़त्म कर लिया करते थे। जीतू के साथ काम करना हमेशा खुशगवार रहा और मैं उनकी ऊर्जा की कायल रही हूं। 

बता दें, रीना राय लगभग 20 सालों से फ़िल्मों से दूर हैं। आख़िरी दफ़ा वो जेपी दत्ता की फ़िल्म रिफ्यूजी में नज़र आयी थीं, जिससे करीना कपूर और अभिषेक बच्चन ने डेब्यू किया था। (With IANS Inputs)