अनुप्रिया वर्मा, मुंबई. टीवी शो ‘ये हैं मोहब्बतें’ फेम दिव्यांका त्रिपाठी ने अपनी पहचान छोटे परदे पर बड़ी बना ली हैं. आज वह टेलीविजन की टॉप एक्ट्रेस में से एक हैं. लेकिन एक दौर था, जब उन्हें काफी ताने भी सुनने पड़े थे.

हाल ही में जागरण डॉट कॉम से बातचीत के दौरान दिव्यांका ने बताया कि लोगों ने उन्हें उनकी स्क्रीन इमेज के आधार पर ही जज करना शुरू कर दिया था. दिव्यांका कहती हैं कि उन्हें उनकी इमेज को कारण लोगों ने बहनजी कहना शुरू कर दिया था. वह खुद स्वीकारती हैं कि मुझे लोगों ने बहनजी कहना शुरू कर दिया था. मुझे बुरा लगता था. मैंने लेकिन फिर मन में सोचा कि क्या बहनजी पहनावे से होते हैं या ये स्टेट ऑफ माइंड से. मैं काफी पढ़ी-लिखी लड़की हूं. मैंने काफी दुनिया देखी है और सोच में भी मैं काफी एडवांस हूं, जो आज कल की लड़कियां भी न हो.

दिव्यांका आगे कहती हैं कि कपड़े पहनने से कुछ नहीं होता है. मेरे संस्कार तो वही रहेंगे, जो मैं अंदर से हूं. हालांकि मैंने कई चीजों में खुद को बदला, क्योंकि एक स्टार का रिजिड होना सही नहीं है लेकिन साथ ही मुझे यह भी लगता है कि मुझे गलत उदाहरण नहीं बनना चाहिए कि पूरे ढंके कपड़े पहनी लड़की संस्कारी होती है और वेस्टर्न आउटफिट्स पहनी लड़कियां सही नहीं होतीं. मैंने इस उदाहरण को बदला और लोगों को बताया कि वेस्टर्न आउटफिट्स पहनने वाली लड़कियां भी संस्कारी होती हैं और अपने मूल्यों को लेकर चलने वालों में से हैं.

यह पूछे जाने पर कि शादी के बाद उनकी जिंदगी में क्या बदलाव आये हैं तो वह कहती हैं कि मैंने काफी मैनजमेंट सीख लिया है. परिवार को लेकर चलती हूं और काम के प्रति भी कोई कोताही नहीं बरतती. दिव्यांका कहती हैं कि यह सच है कि शादी के लिए भी हमारे पास समय नहीं था. मैंने सबकुछ मैनेज करना सीखा और शादी के बाद ज़िंदगी में और सकारात्मक बदलाव ही आते रहे हैं. दिव्यांका कहती हैं कि उनके करार के अनुसार उन्हें अपने हॉलीडे बचाने होते हैं, ताकि वह अपने दोनों परिवारों का पूरा ख्याल रख सकें.

यह भी पढ़ें: तस्वीरें: इश्क़ सुभान अल्लाह में आने वाला है ये ट्विस्ट, हाल ही में हुआ है 100 एपिसोड का जश्न

Posted By: Manoj Khadilkar