नई दिल्ली, जेएनएन। टीवी एक्टर अभिनव शुक्ला आजकल खतरों के खिलाड़ी में स्टंट करते नजर आ रहे हैं। अभिनव को एक दमदार खिलाड़ी माना जा रहा है। रविवार को दिखाए गए एपिसोड में अभिनव ने खुदकर एलिमिनेशन से बचा लिया। इस राउंड में उनका मुकाबला आस्था गिल से था और आस्था शो से बाहर हो गई। वहीं श्वेता तिवारी के साथ टास्क में अभिनव शुक्ला से जुड़ा एख बड़ा खुलासा हुआ। कि अभिनव को एक ऐसी बीमारी है जिसमें उन्हें अंक और अक्षरों को समझने में परेशानी होती है।

नंबर्स और आंकड़े मुझे शर्मिंदा नहीं करते

शो खत्म होने के बाद अभिनव ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक पोस्ट लिख इस बीमारी के बार में बाताया। अभिनव ने लिखा, 'मैं बॉर्डरलाइन डिस्लेक्सिक हूं। अब यह सबको पता है। इसलिए मैं इस बारे में और खुलासे करूंगा... इसमें किसी की गलती नहीं है, ना ही मेरी, जो है सो है। मुझे इसे स्वीकार करने में दो दशक लग गए। अब मुझे नंबर्स और आंकड़े शर्मिंदा नहीं करते। मुझमें स्थान-संबंधी असाधारण क्षमता है। मैं दूसरी तरह से सक्षम हूं।'

दसरी चिजों में हैं असाधारण

अभिनव ने अपनी पोस्ट के कैप्शन में लिखा, ‘हां नंबर्स, अक्षर, शब्द मुझे भ्रम में डाल देते हैं, मुझे तारीख, नाम, उन तारीखों का नामों से संबंध जैसी चीजें याद रखने में कठिनाई होती है लेकिन मैं स्थान-संबंधी क्षमता में असाधारण हूं। मुझे अपना सारा अतिरिक्त सामान अपनी कार की डिक्की में डालने के लिए कहें। मैं करूंगा। मैं कुछ चीजों में अच्छा हूं तो कुछ चीजों में बुरा हूं। और मैं उन्हें सुधारने की लगातार कोशिश में हूं।‘

तारें जमीन पर के ईशान को भी थी यहीं बीमारी

आपको बता दें कि फिल्म 'तारे जमीन पर' में एक्टर दर्शील सफारी को भी यहीं बीमारी थी। जिसके कारण वो अक्षर और अंकों को समझ नहीं पाता था। इस फिल्म के आने के बाद लोगों को इश बीमारी के बार में डिलेट में पता चला। ज्यादातर को ये प्रैब्लम बहुत छोटी उम्र में ही डिटेक्ट हो डाती है। 

Edited By: Ruchi Vajpayee