नई दिल्ली, जेएनएन। भारत की आवाज दूरदर्शन को 60 साल हो गए हैं। इन 60 सालों में दूरदर्शन पर कई ऐसे कार्यक्रम और सीरीज आई हैं, जो आज भी लोगों को याद हैं। इतना ही नहीं, अगर आज भी ये कार्यक्रम टीवी पर प्रसारित होते रहते हैं तो लोग उन्हें देखना शुरू कर देते हैं। 15 सितंबर 1959 को दिल्ली में शुरू हुआ दूरदर्शन आज हर घर का हिस्सा बन गया है। 60 साल होने पर सरकार ने इसकी डाक टिकट भी जारी की है।

वहीं दूरदर्शन की इस जर्नी को सेलिब्रेट करने के लिए आलोक श्रीवास्तव ने एक कविता लिखी है, जिसे अमिताभ बच्चन ने आवाज दी है। मैं नए भारत का चेहरा हूं शीर्षक वाली इस कविता का वीडियो भी बनाया गया है, जिसमें अमिताभ बच्चन एक्ट कर रहे हैं और आवाज भी उन्हीं की है। पीआईबी ने इस वीडियो को ट्वीट किया है, जिसमें दूरदर्शन की जर्नी को दिखाया गया है।

वहीं दूरदर्शन भी इस दौरान अपने पुराने कार्यक्रम को याद कर रहा है। उनके कुछ वीडियो भी ट्विटर पर पोस्ट किए गए हैं, जो आपको पुराने दौर की याद दिलाते हैं। वहीं इसमें 80-90 के दशक के बच्चों के लिए बनाए खास कार्यक्रम भी शामिल है और आप भी इन्हें देखकर अपना बचपन याद करने लगेंगे। आइए जानते हैं उन कार्यक्रमों के बारे में, जिनकी आज भी हम चर्चा करते हैं....

शक्तिमान

चंद्रकांता

विक्रम और बेताल

हम लोग

मालगुड़ी डेज

रामायण

महाभारत

बुनियाद

Posted By: Mohit Pareek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस