अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। इरफ़ान अपनी नयी फिल्म 'करीब करीब सिंगल' लेकर आ रहे हैं। अब तक बॉलीवुड में जो लव स्टोरी बनती रही हैं, ये फिल्म उससे अलग हट कर है। इरफ़ान का कहना है कि आमतौर में प्रेम कहानियों को लेकर यही बातें होती हैं कि उसमें लोग साथ जीने-मरने का दावा करने लगते हैं। मगर इस फिल्म का थीम है कि साथ में दावे करने की जरूरत नहीं है। बस साथ रहें, यही जरूरी है।

सिनेमा में डिस्कशन भी हो 

इरफ़ान आगे कहते हैं कि ऑडियंस कंटेंट को कई सालों से तवज्जो देने लगी है। यह सिलसिला कई सालों से शुरू हो गया है। मुझे लगता है कि हिंदी का मेन स्ट्रीम सिनेमा के साथ-साथ दर्शक विदेश और वर्ल्ड सिनेमा देख रहे हैं। साथ ही रीजनल सिनेमा वह अधिक देख रहे हैं। उनसे वह रिलेट कर रहे हैं। इरफ़ान ने कहा है कि वह इस तरह के सिनेमा से जुड़ना चाहते हैं, जिसके विषय में सिर्फ एंटरटेमेंट न हों, बल्कि बाद में उसको लेकर डिस्कशन हो, फिल्मों को मैं साथ लेकर चलना चाहता हूं। वह चेंज अब शुरू हो चुका है। ऑडियंस इंवोल्व हो रही है।

यह भी पढ़ें:Box Office: सौ करोड़ी हफ़्ता वसूली से चूक गई जुड़वा 2 , पर वरुण ने कर दिया ये कमाल

 

डबल के चक्कर में ठीक से सिंगल भी नहीं 

इरफ़ान ने कहा कि इस फिल्म के माध्यम से एक ऐसे व्यक्ति की कहानी कहने की कोशिश कर रहे हैं, जो कि आम ज़िंदगी से जुड़ी है। ऐसे कई लोग हैं जो रिलेशन में सिंगल हैं और डबल होना चाहते हैं मगर, इस चक्कर में कई बार वह ख़ूबसूरत पल मिस कर जाते हैं। उस एहसास को लोग भूल जाते हैं। ऐसे में एक लड़का और लडकी दोनों ही मिलते हैं और दोनों ही वह खूबसूरत वक़्त एक दूसरे के साथ गुजारें और बेवजह की बातों में वक़्त जाया न करें तो उस एहसास की ख़ुशी लोगों को जरूर होनी चाहिए। जहां कमिटमेंट हो न हो, लेकिन जिंदगी को लेकर एक्साइटमेंट हो। फिल्म उसी जर्नी की बात करती है।

डेटिंग एप्स में कोई बुरी बात नहीं 

इरफ़ान सोशल मीडिया के प्रेम को लेकर अपनी बात रखते हुए कहते हैं कि उन्हें ये बात समझ नहीं आती है कि लोग क्यों लुका छुपा के रिश्ते को लेकर अजीब सा सोचने लगते हैं जबकि दो लोगों का करीब आना, सबसे अच्छी चीज है दुनिया में। इरफ़ान डेटिंग एप्स को बिल्कुल गलत नहीं मानते हैं।

यह भी पढ़ें:करण जौहर ने नई फिल्म की घोषणा होते ही इस बात को बता डाला झूठी

फिल्म ' करीब करीब सिंगल ' 10 नवंबर को रिलीज़ होगी। फिल्म का निर्देशन तनुजा चंद्रा ने किया है।

Posted By: Manoj Khadilkar