नई दिल्ली, जेएनएन। Anushka Ranjan On Nepotism:  सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से लगातार इनसाइडर बनाम आउटसाइड की बहस चल रही है। इंडस्ट्री के लोग परिवारवाद की बात कर रहे हैं। इस बीच इस मुद्दे पर 'वेडिंग पुलाव' फेम अभिनेत्री अनुष्का रंजन ने भी अपना विचार रखा है। उनका कहना है कि परिवारवाद की चाभी दर्शकों के हाथ में है। दर्शकों को फ़िल्म देखने के लिए जबरदस्ती नहीं कर सकते हैं। 

इस दौरान मौजूदा समय में परिवारवाद पर हो रही बहस पर अनुष्का ने कहा कि उनके लिए परिवारवाद की परिभाषा बिल्कुल अलग है। उनके मुताबिक परिवारवाद वह है जब किसी व्यक्ति को जबरदस्ती लोगों के ऊपर थोपा जाता है, जैसे-किसी कंपनी के सीईओ के बेटे को बिना कर्मचारियों की मर्जी के उनका सीईओ बना दिया जाता है। लेकिन सिनेमा में लोगों के पास विकल्प होता है। दर्शकों से कोई अपनी फिल्म देखने के लिए जबरदस्ती नहीं कर सकता है। ऐसे में अगर वास्तव में लोगों को परिवारवाद से समस्या है, तो उनके पास ऐसे सितारों की फिल्में नहीं देखने का विकल्प होता है। कुछ फिल्में असफल होने के बाद कोई भी निर्माता उन पर दांव नहीं लगाएगा। इसलिए परिवारवाद की असली चाभी दर्शकों के हाथों में होती है।

इसे भी पढ़िए- Netflix Original Class Of 83: जानें कब रिलीज़ होगी बॉबी देओल की डिजिटव डेब्यू फ़िल्म, बने हैं कड़क IPS अफ़सर

काम के तनाव से मुक्ति पाने का सभी का अपना तरीका होता है। 'वेडिंग पुलाव' फेम अभिनेत्री अनुष्का रंजन के मुताबिक ज्यादा काम के दबाव से मुक्ति पाने के लिए वह अपना काम जल्द से जल्द खत्म करने की कोशिश करती हैं और अपनी पसंद की चीजें खाती हैं। उन्होंने ये बातें बुधवार को इंस्टाग्राम लाइव पर प्रशंसकों से बातचीत करते हुए बताईं।  अनुष्का जल्द ही अपनी आगामी वेब सीरीज 'फितरत 2' और 'फितरत 3' की शूटिंग शुरू करेंगी। ऐसे में उनके फैंस को इस वेब सीरीज़ का बेसब्री से इंतज़ार होगा। अब देखना होगी, ये वेब सीरीज़ दर्शकों को कितना पसंद आती है।

Photo Credit- Anushka Ranjan Instagram

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021