स्मिता श्रीवास्तव, मुंबई। एक बार मैंने कमिटमेंट कर दी तो उसके बाद मैं अपने आप की भी नहीं सुनता। फिल्म 'वांटेड' में यह डायलॉग बोलने वाले सलमान खान असल जिंदगी में भी कमिटमेंट के पक्के हैं। पिछले साल लॉकडाउन के दौरान सलमान ने दिहाड़ी मजदूरों की आर्थिक मदद की थी। कोरोना की दूसरी लहर के बीच सिनेमा इंडस्ट्री में काम करने वाले 25 हजार दिहाड़ी मजदूरों की आर्थिक मदद के लिए भी वह फिर आगे आए। उन्होंने ईद पर अपनी फिल्म 'राधे- योर मोस्ट वांटेड भाई' को रिलीज करने का वादा किया था। उसे उन्होंने निभाया भी। मुंबई में फ्रंट लाइन वर्कस के लिए खाने के पैकेट बंटवाएं। खाने के पैकेट की सलमान ने खुद जांच भी की।  

सलमान का कहना है, 'मैं मदद करना चाहता हूं। यह जानना चाहता हूं कि मुझे वास्तव में क्या करना है, इसलिए जब हमारी फैक्ट्री से राशन वितरित किया जा रहा था तो मैं फूड टेस्टिंग के लिए गया ताकि मुझे पता चल सके कि वास्तव में लोगों के पास क्या जा रहा है। मुझे पता होना चाहिए। यह मेरी जिम्मेदारी है।'

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A post shared by Salman Khan (@beingsalmankhan)

पिछले साल लॉकडाउन के दौरान सलमान खान मुंबई के करीब पनवेल स्थित अपने फार्म हाउस में रहे थे। वहीं से उन्होंने अपना यूट्यूब चैनल लांच किया था और अपना गाना भी रिलीज किया था। कोरोना काल में तकनीक के करीब आने के संबंध में वह कहते हैं, 'यह डिजिटल का जमाना है। मैं देख रहा हूं कि अब हर चीज वर्चुअली हो रही है। अभी हाल ही में कबीर बेदी जी की किताब को भी मैंने वर्चुअली लांच किया था। ज्यादातर फिल्मों के नैरेशन भी वर्चुअली हो रहे हैं। इंटरव्यू भी अब तो वर्चुअली दे रहा हूं। फिल्मों के प्रमोशन के लिए हम पहले अलग-अलग शहर जाते थे। विदेश भी जाते थे।

कोरोना की वजह से अब प्रमोशन भी वर्चुअली हो रहा है। इसलिए इस समय हमें तकनीक को ज्यादा से ज्यादा समझने और सीखने की जरूरत है।' 'राधे- योर मोस्ट वांटेड भाई' को पिछले साल ही रिलीज करना था। कोरोना की वजह से फिल्म की रिलीज को स्थगित करना पड़ा था। इस फिल्म को बनाने के संबंध में सलमान खान कहते हैं, 'दरअसल अतुल ( अतुल अग्निहोत्री, बहनोई) ने कोरियन फिल्म 'द आउटलाज' देखी थी। उन्हें वह फिल्म बहुत पसंद आई। उन्होंने मुझसे उस फिल्म को देखने के लिए कहा। जब मैंने कोरियन फिल्म देखी तो मुझे भी बहुत पसंद आई। उसी वक्त हमने इसे बनाने का फैसला कर लिया।'

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A post shared by Salman Khan (@beingsalmankhan)

हिंदी सिनेमा में इन दिनों रियलिस्टिक फिल्मों का दौर है। उसके मुताबिक कलाकार भी काम कर रहे हैं। वह अपनी पुरानी छवि से इतर किरदारों को निभाने में दिलचस्पी ले रहे हैं। हालांकि सलमान लगातार लार्जर दैन लाइफ वाले किरदार ही निभा रहे हैं। रियलिस्टिक किरदारों को निभाने के संबंध में वह कहते हैं, 'सभी कलाकार अपने पास आने वाले किरदारों में से ही अपने लिए बेहतर चुनते हैं। अगर मेरे पास भी किसी दिलचस्प किरदार का प्रस्ताव आएगा तो मुझे भी उसे करने में मजा आएगा।'

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A post shared by Salman Khan (@beingsalmankhan)

'राधे- योर मोस्ट वांटेड भाई' में सलमान खान एक बार फिर  एक्शन अवतार में हैं। अब तक के अपने चुनौतीपूर्ण एक्शन के संबंध में वह कहते हैं, 'एक था टाइगर', 'दबंग', 'वांटेड' में काफी एक्शन था। वह काफी चुनौतीपूर्ण था। हर फिल्म के साथ एक्शन भी बदलता है और हर बार आपको नया एक्शन देखने को मिलता है। राधे का एक्शन सीक्वेंस भी काफी अच्छा है। उसमें खून खराबा नहीं है।' 

अपनी फिल्म को पे पर व्यू के तहत डिजिटल प्लेटफार्म पर रिलीज करने के बारे में कहते हैं, 'यह फैसला लेना हमारे लिए मुश्किल था। दर्शक मेरी फिल्मों को बड़े पर्दे पर देखना पसंद करते हैं। इस बार चूंकि क्योंकि हर जगह लॉकडाउन है। इसलिए भारत में फिल्म बड़े पर्दे पर रिलीज नहीं हो पाई। विदेश में भी कई जगहों पर 50 प्रतिशत क्षमता के साथ थिएटर खुले हैं। कनाडा समेत कई देशों में लॉकडाउन अभी भी जारी है। हर कोई चाहता है कि फिल्में पूरी क्षमता से रिलीज हों जैसे कि पहले हुआ करती थी, लेकिन यह न्यू नार्मल है और ईद पर आने का कमिटमेंट था। पे पर व्यू लोग देख रहे हैं। जब थिएटर खुलेंगे तो हम सिनेमाघरों में भी फिल्म रिलीज करेंगे।'

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A post shared by Salman Khan (@beingsalmankhan)

डिजिटल पर लगातार वे फिल्में भी रिलीज हो रही हैं जिन्हें थिएटर के लिए बनाया गया था। सिनेमा के भविष्य को लेकर तमाम आशंकाएं व्यक्त की जा रही हैं। इस संदर्भ में सलमान कहते हैं, 'हम जिस हालात का  सामना कर रहे हैं उसके मुताबिक ही हमें काम करना पड़ रहा है। पहले सभी का टीकाकरण जरूरी है। कुछ समय बाद जब सिनेमाघर खुलेंगे तब लोग कोरोना से बचाव के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए फिल्म देखने पहुंचेंगे तो चीजें सामान्य होंगी, लेकिन इसमें कुछ समय लगेगा। यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि हम सावधानी बरतें। मास्क पहनें, साफ-सफाई रखें। अनावश्यक बाहर न निकलें। तभी हम अपने प्रियजनों व परिवार को सुरक्षित रख सकेंगे। मैं भी इन बातों का ध्यान रखता हूं।'

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप