अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। शशि कपूर मंगलवार को पंचतत्व में विलीन हो गये लेकिन उनकी फिल्में, उनके गाने और किरदार हमेशा लोगों की यादों में रहेंगे और साथ ही कुछ ऐसी बातें जो अब उनके को-एक्टर याद कर रहे हैं।

शशि जहां एक तरफ अपनी अभिनेत्रियों में तो लोकप्रिय थे ही और प्रिंस चार्मिंग कहे जाते थे वहीं बच्चों के साथ भी उनका खूब याराना था। वह बच्चों के साथ खूब एंजॉय करते थे। अगर आपको साल 1973 में आई फिल्म आ गले लग जा याद हो तो उस फिल्म के बाल कलाकार टीटो खत्री भी याद होंगे। टीटो खत्री ने शशि कपूर को याद करते हुए अपनी खास बातचीत में बताया कि वह उस वक्त केवल 7 या 8 साल के रहे होंगे, जब उन्होंने इस फिल्म में अभिनय किया था। उन्हें सारी बातें तो याद नहीं. लेकिन उन्हें यह जरूर याद है कि शशि कपूर बच्चों के साथ काफी मस्ती करते थे और काफी प्यार देते थे। टीटो को यह भी याद है कि किस तरह शशि कपूर सेट पर स्पॉट ब्वॉय और लाइट मैन का खाना खा जाते थे। वो उनके घर का बना होता था और बाद में उन्हें पैसे दे देते थे कि जाओ किसी बड़े होटल से खाना मंगा लो। ये खाना तो वो (शशि) ही खाएंगे। टीटो को वह दिन भी याद है, जब फिल्म के एक सीन में शत्रुघ्न सिन्हा काफी अग्रेसिव होकर टीटो को मारते हैं।

 

टीटो कहते हैं "हालांकि शत्रुघ्न सर ने भी इस बात का ख्याल रखा था कि मुझे चोट न लगे और मुझे चोट लगी भी नहीं थी। मगर, मैं काफी डर गया था। चूंकि शत्रुघ्न जी काफी अग्रेसिव सीन थे। जाहिर है, वह अपना किरदार ही निभा रहे थे लेकिन मुझे डर लग गया था। मुझे याद है कि जब सीन खत्म हुआ तो शशि जी मेरे पास आये और उन्होंने मुझे ढेर सारे स्वीट्स, आइसक्रीम और चॉकलेट्स मंगा कर दी ताकि मैं उसे खाऊं और चुप हो जाऊं। शशि जी में यह बात थी कि वह हर किसी के साथ काफी जेनरस थे।" बाद के दिनों में भी टीटो जब भी उनसे मिलते तो वह उन्हें हर तरह से सपोर्ट करने की ही कोशिश करते थे।

यह भी पढ़ें: शशि कपूर पंचतत्व में विलीन, भारी बारिश में नम आंखों से विदाई

बता दें कि आ गले लग जा का निर्माण मनमोहन देसाई ने किया था और शर्मिला टैगोर इस फिल्म में शशि कपूर के साथ अहम किरदार में थीं। फिल्म का गाना 'तेरा मुझसे है पहले का नाता कोई...' आज भी बेहद लोकप्रिय है।

By Manoj Khadilkar