मुंबई। पिछले साल बॉलीवुड सहित आम लोगों को भी हिलाकर रख देने वाले मी टू अभियान की ‘जनक’ कही जाने वाली तनुश्री दत्त अमेरिका वापस लौट गई हैं लेकिन उनके आरोपों का सिलसिला ख़त्म नहीं हुआ है।

तनुश्री दत्ता ने फिर से बॉलीवुड के लोगों को आड़े हाथों लेते हुए उन पर गंभीर आरोप लगाये हैं। उन्होंने नाना पाटेकर, गणेश आचार्य, सामी सिद्दीकी और राखी सावंत के ख़िलाफ़ बातें कहीं हैं। उन्होंने कहा कि वो उस सभी लोगों को बददुआ देती हैं जिन्होंने दस साल पहले उनके करियर को तबाह करने की हरकत की और तब से अब तक उसमें कई लोग शामिल रहे।

तनुश्री ने एक नया बयान जारी किया है। इस बयान में उन्होंने ऐसी ऐसी बातें लिखीं हैं जिनका सामान्य रूप से उल्लेख भी नहीं किया जा सकता। गणेश आचार्य ऐसे आदमी है जिनको मैंने फिल्म हॉर्न ओके प्लीज़ गाने के लिए रिकमेंड किया था लेकिन वो नाना के पक्ष में हो गए। चार आरोपियों में उनका नाम भी एफआईआर में है। एक नहीं चार लोगों ने मुझे सेट पर प्रताड़ित किया। उस वक्त मैं सिर्फ 24 साल की थी और अपना करियर शुरू कर रही थी। उन्होंने गणेश आचार्य पर उनकी छवि को इंडस्ट्री में बिगाड़ने का आरोप भी लगाया है।

इमेज को ख़राब करने का इसी तरह का अभियान राखी सावंत ने भी मेरे लिए चलाया था जब मुझ पर अभद्र बर्ताव के कई आरोप लगाए गए। तनुश्री ने अपने बयान में कहा है कि मुझे आश्चर्य है कि मैं अब भी जिंदा हूं। पिछले छह महीनों तक मैं भारत में रही और उस दौरान यौन शोषण के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई। मैं इन चारों और हॉर्न ओके प्लीज़ के निर्देशन राकेश सारंग को दिल से बददुआ देती हूं। और इन लोगों के साथ भविष्य में भी जो निजी या पेशवर रूप से उसे भी ये बददुआ लगेगी। जैसी प्रताड़ना मैंने झेली है, इन सबको झेलनी पड़ेगी। इसलिए आने वाले समय में अपने दोस्त और सहयोगी चुनते समय बहुत ध्यान रखें।

तनुश्री ने आगे कहा कि आप लोगों ने मेरे ख़िलाफ़ बहुत ही ज़हर उगला है और अब मैं उसे आपको लौटतीं हूं। कोई भी पंडित या पुजारी आपको इस बददुआ से बचा नहीं पाएगा। देवी-देवता भी आपकी कोई मदद नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें: Box Office पर मणिकर्णिका और ठाकरे रिलीज़, पहले दिन इतनी हो सकती है कमाई

Posted By: Manoj Khadilkar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप