मुंबई। जीवन में जब आप संघर्ष करते रेंगते हुए ऊपर आते हैं तो ज्यादा अच्छा काम करने की कोशिश रहती है। मैं पर्सनल लेवल पर अमिताभ बच्चन जी का बहुत बड़ा फैन हूं। वे 365 दिन काम करते हैं अगर एक दो रविवार या छुट्टियों को छोड़ दिया जाए तो। उनके जीवन में उनकी एनर्जी और हादसों को याद रखता हूं। मेरा मानना है कि ईश्वर ने जो कुछ दिया है बहुत अच्छा है और इस धरती पर एंटरटेन करने का मौका दिया है तो वो कर रहा हूं।

यह कहना है मशहूर अभिनता रवि किशन का। दैनिक जागरण के स्पेशल एंटरटेनमेंट शो में रवि किशन ने जागरण डॉट कॉम के एंटरटेनमेंट एडिटर पराग छापेकर के साथ बातचीत करते हुए कई राज खोले। बातचीत पढ़ने के साथ वीडियो को नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके देखा जा सकता है। 

रवि किशन ने आने वाले दिनों में पसंदीदा किरदार निभाने को लेकर कहा कि, मेरा ड्रीम रोल मुझे लगता है कि नौ दिन नौ रात में संजीव कुमार जी ने जो निभाया था वह है। वैसे तो मेरे जहन में एक हजार किरदार मचल रहे हैं। मैं एेसा कुछ चाहता हूं कि अॉडियंस को मनोरंजन कर सकूं। मुझे एक्टिंग आती नहीं है मैं बस जीता हूं। किरदार को जीता हूं और आगे भी एेसा ही करता रहूंगा। 

फिल्म मोहल्ला अस्सी में अहम किरदार में नजर आ रहे रवि किशन बताते हैं कि, मोबाइल जो है इसमें दुनिया का सिनेमा है। अब किसी को वेबकूफ नहीं बनाया जा सकता। स्त्री, बधाई हो जैसी फिल्में इसलिए चली क्योंकि इसमें सोल कंटेंट था। सोल कंटेंट नहीं होगा तो बड़े स्टार्स होने के बावजूद फिल्म अॉडियंस को पसंद नहीं आएगी। यह वेकअप कॉल है राइटर्स के लिए। राइटर्स को उचिट क्रेडिट भी मिलना चाहिए जिस प्रकार हम एक्टर्स को बढ़ावा देते हैं उसी प्रकार राइटर्स को भी ज्यादा क्रेडिट मिलना चाहिए।  

यह भी पढ़ें: फिल्म 2.0 को लेकर अक्षय कुमार का एेसा रहा अनुभव, बोले एेसी फिल्म में काम करने का मौका मिला

यह भी पढ़ें: इन छह सितारों से ज़्यादा बहादुर निकले अक्षय कुमार, इसलिए मिली 2.0

 

Posted By: Rahul soni

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस