मुंबई। सेंसर बोर्ड ने इस 15 अगस्त को रिलीज़ हो रही जॉन अब्राहम और मनोज बाजपेई स्टारर फिल्म सत्यमेव जयते को ए सर्टिफिकेट के साथ पास कर दिया है। फिल्म के निर्देशक मिलाप ज़वेरी ने इस बात की पुष्टि की है।

उन्होने कहा है कि हां फिल्म को ए सर्टिफिकेट दिया गया है लेकिन इसमें कोई हैरानी की बात नहीं है। फिल्म के ट्रेलर में जिस तरह भ्रष्टाचार से जंग के लिए सख्त शब्दों का इस्तेमाल किया। फिल्म में जबरदस्त एक्शन है तो ऐसे में एडल्ट का सर्टिफिकेट तो मिलना ही था। मिलाप के मुताबिक उनकी फिल्म में सामान्य एक्शन सीन्स नहीं हैं। फिल्म में मुहर्रम वाले सीन में ख़ूब सारा खून दिखाया गया है। फिल्म में भारी भारी खून खराबे के कारण ही इसे दूसरा सर्टिफिकेट नहीं दिया गया लेकिन फिल्म में सेक्स या किसी तरह के गलत शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया गया है, इसलिए इस कारण एडल्ट सर्टिफिकेट नहीं मिला है। मिलाप ने कहा कि ये कहना गलत है कि एक बार एडल्ट सर्टिफिकेट मिल गया तो इससे आपकी कमाई पर असर पड़ता है। उनकी शूटआउट एट वडाला अच्छी चली थी। ग्रेट ग्रैंड मस्ती और वीरे दी वेडिंग को अच्छा कलेक्शन मिला था।

मिलाप ने बताया कि उनकी फिल्म सत्यमेव जयते में एक ट्विस्ट भी है और जब दर्शक उसे देखेंगे तो चौंक जाएंगे। इस फिल्म में जॉन के साथ मनोज बाजपेई भी पुलिसवाले की भूमिका में हैं लेकिन जॉन भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ अपने तरीके से जंग लड़ते हैं। फिल्म में अभिनेत्री नेहा शर्मा की बहन आयशा शर्मा भी हैं जो डेब्यू कर रहे हैं। सत्यमेव जयते के साथ अक्षय कुमार की गोल्ड भी रिलीज़ हो रही है। ये आजाद भारत के पहले ओलम्पिक हॉकी गोल्ड जीतने की कहानी है।

पिछले दिनों मिलाप ने जागरण डॉट कॉम के साथ हुई विशेष बातचीत में कहा था कि वह फिल्म सत्यमेव जयते की वेब सीरिज बनाना चाहते थे लेकिन उनके दोस्त और निर्देशक रेंजिल डिसिल्वा ने कहानी का आइडिया सुनने के बाद इस पर एक फिल्म बनाने के लिए कहा। इसके बाद जब उन्होंने फिल्म लिख ली तो अब उनके सामने यह समस्या थी कि अब इस फिल्म में लें किसे क्योंकि उनकी पिछली फिल्म बॉक्स ऑफिस पर नहीं चली थी, जिसके चलते कोई भी बड़ा कलाकार उनकी फिल्म में काम करने से पहले सोचता l इसके बाद उन्होंने इस फिल्म को लेकर उनके दोस्त और फिल्म अभिनेता वरुण धवन के भाई रोहित धवन से चर्चा की l

इस बात को लेकर रोहित धवन ने कहा कि वह उनकी फिल्म की कहानी जॉन अब्राहम को सुनाएं l इसके पीछे दो कारण थे कि जॉन अब्राहम को इस भूमिका के लिए एकदम सही थे और दूसरा जॉन को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता था कि बॉक्स ऑफिस पर आपकी पिछली फिल्म ने कैसा परफॉर्म किया है l

यह भी पढ़ें: जॉन अब्राहम की 'साढ़े साती', जानिये क्या है ये चक्कर

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस