मुंबई। सैफ़ अली खान और करीना कपूर के घर में साल 2016 में तब नई खुशियां आई थीं जब तैमूर अली खान का जन्म हुआ। ऐसा दोबारा हो सकता है अगर करीना कपूर अपने दो साल वाले प्लान को आगे बढ़ाने को तैयार हों।

अगर आप ये सोच रहे हैं कि हम करण जौहर की अगली फिल्म गुड न्यूज़ की बात कर रहे हैं, जिसमें करीना कपूर अक्षय कुमार के साथ लीड रोल में हैं तो ऐसा बिलकुल नहीं है। दरअसल करीना कपूर अपनी फ़ैमिली को बढ़ाना चाहती हैं और उनकी दोबारा माँ बनने की प्लानिंग है। हाल ही में एक टॉक शो में करीना और उनकी ख़ास दोस्त अमृता अरोड़ा को बुलाया गया था। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनके दिमाग में दूसरे बच्चे की योजना है। करीना ने जैसे ही ये बात कही अमृता ने मज़ाक में कहा कि करीना को हमें इस बारे में पहले से बताना चाहिए अगर वो दूसरे बच्चे की सोच रही हों ताकि वो (अमृता) इस देश से बाहर जा सकें। करीना के मुताबिक उन्होंने तैमूर के जन्म के बाद ये प्लान किया था कि वो दो साल के बाद दूसरे बच्चे के बारे में सोचेंगी।

करीना ने ये नहीं बताया कि फिलहाल वो पाने दो साल बाद वाली योजना पर कायम हैं या नहीं। हाल में उन्हें सैफ़, तैमूर, सोहा, कुणाल और इनाया के साथ वेकेशन मानते हुए देखा गया था। तैमूर की परवरिश के चलते फिल्मों से दो साल तक दूर रहीं करीना कपूर ने वीरे दी वेडिंग से वापसी की है। फिल्म गुड न्यूज़ के साथ वो करण की ही फिल्म तख़्त में भी नज़र आएंगी, जिसमें रणवीर सिंह हीरो हैं।

बॉलीवुड के सुपरक्यूट किड तैमूर अली खान की तस्वीरें अक्सर वायरल होती रहती हैं। उनके जन्म से लेकर। अब तक लोग भी शौक से ऐसी तस्वीरों को देखते और ख़बरों को पढ़ते हैं। माँ करीना और पापा सैफ़ को भी तैमूर की छोटी छोटी बातें लोगों को बताने में दिलचस्पी रहती है l सैफ ने कहते हैं कि तैमूर एक ख़ास एटेंशन पाने वाला बच्चा है पर उन्हें इस बात पर ख़ुशी होगी अगर वो सामान्य आदमी की तरह अपना जीवन व्यतीत करे। लेकिन चूंकि हम सेलेब्रिटी हैं तो हर जगह जा नहीं सकते। सड़क पर घूम नहीं सकते। पानी पूरी खा नहीं सकते। देश में बहुत ही कम ऐसी जगह बची है जहां कैमरों से हम बच पाएं। पटौदी पैलेस उनमें से एक है। सैफ ने कहा कि तैमूर को पहले ही बहुत सारा मीडिया अटेंशन मिल चुका है और उम्मीद कि आगे चल कर उसे इससे बहुत फर्क नहीं पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: कसौटी जिंदगी की 2: दस शहर और 23 फीट उंची प्रतिमा, होगा धमाकेदार प्रमोशन

Posted By: Manoj Khadilkar