मुंबई। वरुण धवन ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि अपनी फ़ैन को सरेराह एंटरटेन करना इतना भारी पड़ेगा। ट्रैफ़िक नियमों की अनदेखी करने के लिए मुंबई पुलिस ने वरुण धवन का ना सिर्फ़ चालान किया है, बल्कि उन्हें भविष्य में ऐसा ना करने की कड़ी चेतावनी भी दी है।

हुआ यूं कि हमारे सहयोगी अख़बार मिड-डे में वरुण की एक तस्वीर छपी थी, जिसमें वो एक फ़ैन के साथ दिख रहे हैं। वरुण अपनी कार की विंडो से आधे बाहर निकलकर बगल के ऑटो में बैठी महिला फ़ैन के साथ सेल्फ़ी ले रहे हैं। पुलिस ने ये तस्वीर देखकर ख़ुद संज्ञान लेते हुए वरुण को ई चालान भेज दिया है, जिसकी जानकारी ट्विटर पर दी गयी है। साथ ही अख़बार की कतरन भी साझा की है। इस ट्वीट के जवाब में वरुण ने माफ़ी मांगते हुए सफ़ाई दी है कि जिस वक़्त वो फ़ैन के साथ सेल्फ़ी ले रहे थे, उनकी कार ट्रैफ़िक सिग्नल पर रुकी हुई थी।

यह भी पढ़ें: पद्मावती की रिलीज़ टलने से इन फ़िल्मों की हुई मौज, कपिल और अरबाज़ में टक्कर

वैसे ये पहली दफ़ा नहीं है, जब बॉलीवुड सितारे जाने-अनजाने क़ानूनी चक्कर में फंसे हों। अक्षय कुमार बहुत सुलझे हुए एक्टर और परिपक्व इंसान हैं। जनता के बीच ऐसा कोई काम नहीं करते, जिससे ग़लत मैसेज जाए। मगर, 2009 में खिलाड़ी ने एक रैंप वॉक के दौरान ऐसा काम कर दिया, जिसे अश्लीलता की श्रेणी में रखा गया और उनके ख़िलाफ़ क़ानूनी मामला बना।

यह भी पढ़ें: झांसी की रानी का अब बदल गया अवतार, फ़िल्मों में कर सकती हैं एंट्री

 

एक डेनिम ब्रैंड के प्रमोशन के लिए रैंप वॉक करते हुए अक्षय कुमार दर्शकों के बीच बैठी अपनी पत्नी ट्विंकल के पास जाते हैं और उनसे जींस का बटन खुलवाते हैं। इस मामले ने काफ़ी तूल पकड़ा और अदालत की आदेश पर उनके ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज़ की गयी थी।

यह भी पढ़ें: जूली2 की बिंदास हीरोइन राय लक्ष्मी की 5 तस्वीरों से जानिए राज़ की बातें

 

बच्चन बहू ऐश्वर्या राय अपने आत्म-सम्मान को लेकर काफ़ी संजीदा रहती हैं, मगर एक ज्वैलरी स्टोर के विज्ञापन के लिए उन्हें विवाद का शिकार होना पड़ा। दरअसल, इस विज्ञापन में गहनों में सजी ऐश्वर्या एक छत्र के नीचे बैठी दिख रही थीं, जिसे ब्लैक बच्चे ने थाम रखा था। इस विज्ञापन पर एक ओपन लेटर के बाद काफ़ी हंगामा हुआ और प्रोडक्ट कंपनी को इसे एडिट करने के साथ माफ़ी मांगनी पड़ी। ऐश के पब्लिसिस्ट की तरफ़ से भी बयान आया कि विज्ञापन के लिए क्रिएटिव लोग ज़िम्मेदार होते हैं, ऐश्वर्या का इससे कोई लेना-देना नहीं।

यह भी पढ़ें: क्या राजनीति के जौहर से बच पाएगी पद्मावती, इन 5 फ़िल्मों पर भी गर्मायी सियासत

कई साल पहले सोनाली बेंद्रे को मुंबई पुलिस ने गिरफ़्तार किया था। सोनाली का अपराध था कि उन्होंने एक पीले रंग का शॉर्ट कुर्ता पहनकर फोटोशूट करवाया था, जिस पर ओम नम: शिवाय लिखा था। ये तस्वीर जब बाहर आयी तो विवाद हो गया, क्योंकि कुछ लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हो गयी थीं। 1998 में सोनाली ने ये फोटोशूट एक मैग़ज़ीन के लिए किया था। मामले में फोटोग्राफर, फ़ैशन डिज़ाइनर और एडिटर भी गिरफ़्तार हुए। सभी को 12000 रुपए की ज़मानत पर छोड़ा गया।

यह भी पढ़ें: पद्मावती विवाद के बीच रणवीर सिंह बदल रहे हैं लुक, देखें तस्वीरें

कुछ ऐसा ही केस कीकू शारदा और बाबा राम रहीम का है। एक टीवी शो के लिए कीकू ने बाबा गुरमीत राम रहीम जैसे लिबास और गेटअप लिया। कॉमेडी शो में कीकू का ये अंदाज़ राम रहीम के किसी भक्त को अखर गया और उनके ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत दर्ज़ करवा दी गयी। हरियाणा पुलिस ने कीकू को मुंबई आकर गिरफ़्तार किया था। कुछ दिन जेल में रहने के बाद कीकू को ज़मानत मिल पायी थी। हालांकि अब तो ख़ुद राम रहीम की बलात्कार के इल्ज़ाम में जेल में बंद है।  

By Manoj Vashisth