मुंबई। भारतीय टेलीविजन पर सबसे लम्बे समय तक प्रसारित जासूसी धारावाहिक सीआईडी पर जल्द एक फिल्म बन सकती है। धारावाहिक के निर्माता बी.पी. सिंह की माने तो फिल्म मारधाड़ से भरपूर होगी, कहानी भी अनूठी होगी और उसे अलग तरह से प्रस्तुत किया जाएगा। वैसे फिल्म में कलाकार वही होंगे जिन्होंने धारावाहिक में अभिनय किया है।

सिंह ने बताया, धारावाहिक के कलाकारों को ही लेकर सीआईडी पर फिल्म बनेगी, लेकिन एक मुख्य खलनायक को बाहर से लिया जाएगा। सोनी चैनल पर 21 जनवरी 1998 में शुरू हुए सीआईडी की अब तक प्रसारित 824 से अधिक कडि़यों में 615 मामले दिखाए गए हैं।

कार्यक्रम में शिवाजी सत्यम, एसीपी प्रद्युम्न की भूमिका में हैं और आदित्य श्रीवास्तव, दयानंद शेट्टी, दिनेश फड़निस, विवेक वी. माशरू, ऋषिकेश पांडे, नरेन्द्र गुप्ता और श्रद्धा मुसेल उनकी टीम के महत्वपूर्ण सदस्य हैं। सिंह ने बताया, कलाकार वहीं रहेंगे लेकिन खलानायकों को बाहर से लिया जाएगा। हमें यह देखने की जरूरत है कि हम किस कलाकार को उसका मेहनताना दे सकते हैं।

मारधाड़ के उत्कृष्ट दृश्य फिल्म को अलग बना देंगे। कहानी और मारधाड़ फिल्म को टीवी पर निरंतर प्रसारित होने वाली कडि़यों से अलग कर देंगे। हमें ऐसी कहानी प्रस्तुत करने की जरूरत है, जो कुछ अलग व अनूठी हो। उन्होंने कहा, सैद्धांतिक रूप से फिल्म को इस वर्ष के अंत तक शुरू हो जाना चाहिए। चैनल के पास इसके अधिकार हैं, यदि चैनल आज अपनी सहमति देता है, तो हम इस पर अगले वर्ष की शुरुआत से काम कर सकेंगे।

उल्लेखनीय है कि ऑफिस-ऑफिस और खिचड़ी के बाद यह तीसरा ऐसा धारावाहिक होगा, जिस पर फिल्म बनाई जाएगी। सीआईडी और आहट जैसे टीवी कार्यक्रमों के निर्देशक सिंह सब टीवी पर प्रसारित हास्य धारावाहिक गुटर गू का भी निर्देशन कर रहे हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर