नई दिल्ली,जेएनएन। TikTok Controversy: टिकटॉक पिछले कुछ दिनों से चर्चा का विषय बना हुआ है। पहले टिकटॉक वर्सेस यूट्यूब का मामला आया। इसके बाद फैज़ल सिद्दीकी का वीडियो वायरल हुआ, जिस पर एसिड अटैक को बढ़ावा देने का आरोप लगा। इस आरोप के बाद सोशल मीडिया पर तमाम ऐसे वीडियो घूमने लगे, जिन पर यौन हिंसा और जानवरों पर आत्यचार की आरोप लग रहे हैं। अब इन सबके बीच टिकटॉक ने एक पोस्ट किया है, जिसमें उन्होंने कुछ स्पष्टीकरण दिया है। 

टिकटॉक इंडिया ने एक ट्वीट करके दो फोटो शेयर की। साथ ही साथ अपने गाइडलाइन्स के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने लिखा, 'टिकटॉक क्रिएटिवटी और अभिव्यक्ति को सेलिब्रेट करने वाला एक मंच है। हमारा उद्देश्य एप के अंदर एक ऐसा वातावरण बनाने का है, जो लोगों और समुदायों को एक साथ लाता है। हम सभी यूजर्स से इस इरादे को मानने व सम्मान करने का अनुरोध करते हैं। अधिक जानकारी के लिए हमारे कम्यूनिटी गाइडलाइन्स को पढ़ सकते हैं।' इसके अलावा टिकटॉक ने क्या करें और क्या ना करें की फोटो भी जारी की है।

वहीं, टिकटॉक हाल फिलहाल वायरल हो रहे कुछ वीडियो के बारे में भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने लिखा कि पिछले कुछ दिनों में हमने पाया कि कुछ वीडियो हमारी पॉलिस के खिलाफ़ हैं। हमने कंटेंट को हटाने, संबंधित यूजर्स के अकाउंट को सस्पेंड करने समते कई कदम उठाए हैं। हम कानूनी एजेंसियों के साथ काम रहे हैं। हम लगातार अपने यूजर्स के लिए सुरक्षित और मददगार वतावरण तैयार करने के लिए काम कर रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें- रणवीर सिंह शेयर की अपनी एक ऐसी पेंटिंग, जिसका कनेक्शन है आत्महत्या करने वाले फेमस चित्रकार से

गौरतलब है कि कुछ वीडियोज़ पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी कार्रवाई करने को कहा था। इसके तहत है कि टिकटॉक ने मंगलवार को फैज़ल सिद्दीकी के अकाउंट को ब्लॉक कर दिया। इसके अलावा सोशल मीडिया पर लोग लगातार टिकटॉक के विरोध और समर्थन कर रहे हैं। इसको लेकर महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा लगातार सक्रिय हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस