अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। श्रीदेवी की करियर की अहम फ़िल्मों में से एक रही 'मिस्टर इंडिया' का गीत 'हवा हवाई...' आज भी कल्ट गानों में एक माना जाता है। फ़िल्म के गाने से लेकर पूरी कहानी पिरोने और श्रीदेवी को फ़िल्म में शामिल किये जाने का पूरा किस्सा दिलचस्प है। श्रीदेवी से जुड़े कुछ ऐसे ही किस्सों पर एक नज़र...!

विद्या बालन ने हजारों बार देखा है श्रीदेवी का मिस्टर इंडिया वाला चार्ली चैप्लीन सीन

हाल ही में विद्या बालन ने फ़िल्म 'तुम्हारी सुलू' में श्रीदेवी जी को ट्रिब्यूट दिया था। विद्या ने इसी फ़िल्म की बातचीत के दौरान बताया था कि फ़िल्म में श्रीदेवी ने जो चार्ली चैप्लीन वाला लुक धारण कर कॉमेडी की है। वह उनकी पसंदीदा सीन्स में से एक हैं और वह जब भी यह बात श्रीदेवी को बताती थीं कि उन्होंने वह सीन कई बार देखा है तो श्रीदेवी सिर्फ हंस देती थीं और कहती थीं विद्या मैं आपके काम की फैन हूं। फ़िल्म में श्रीदेवी ने एक खास किरदार निभाया था। अगर आपको याद हो तो फ़िल्म में उनका चार्ली चैप्लीन वाला दृश्य काफी पसंद किया गया था।

यह भी पढ़ें: फ़िल्में, टीवी, डांस और फ़ैशन... हर चीज़ में माहिर थीं श्रीदेवी, देखिये यादगार तस्वीरें

चैप्लीन दृश्य इतना लंबा नहीं था, बाद में हुआ

श्रीदेवी ने जागरण डॉट कॉम से अपनी बातचीत में इस सीन को लेकर दिलचस्प बात बतायी थी। उन्होंने बताया था कि शेखर कपूर यानि फ़िल्म के निर्देशक ने इस सीन को कुछ लंबा सीन सोच कर नहीं फ़िल्माया था। स्क्रिप्ट में महज़ श्रीदेवी को चार्ली चैप्लीन के लुक में आना था और बस सीन पूरा किया जाना था। लेकिन जब शूट होने लगा तो सीन फ़िल्माने में शेखर को खूब मज़ा आया तो उन्होंने तय किया कि इसे और लंबा दृश्य बनायेंगे। इसके बाद खुद शेखर भी हैरान थे कि उस दृश्य को हिंदी सिनेमा के बेस्ट कॉमेडी दृश्यों में से एक माना गया था।

जब श्रीदेवी ने करवाया था मिस्टर इंडिया के लिए इंतजार

फ़िल्म समीक्षक जयप्रकाश चौकसे ने इस बारे में बताया कि जब यह फ़िल्म बन रही थी तो श्रीदेवी को मनाने के लिए जावेद और बोनी चेन्नई गये थे। बोनी कपूर और जावेद वहां पहुंच तो गये थे मगर, उन्हें श्रीदेवी के डेट्स मिल नहीं रहे थे। उस वक्त श्रीदेवी अन्य प्रोजेक्ट्स में व्यस्त थीं। उ्यकी मां ने उन्हें इंतजार करने को कहा था। बाद में बोनी ने भी हार नहीं मानी और उन्हें 10 दिन के इंतजार के बाद श्रीदेवी को मिलने का समय दिया गया। श्रीदेवी ने कहानी सुनी और फिर उन्हें कहानी बहुत अच्छी लगी। इस किस्से के अलावा बोनी कपूर ने यह भी अपनी बातचीत में कई बार स्वीकारा कि उनकी मॉम ने श्रीदेवी की फीस बढ़ा दी थी, यह सोच कर कि वह पीछे हट जायेंगे। लेकिन बोनी भी पीछे नहीं हटे थे।

क्या कहते हैं श्रीदेवी को हवा-हवाई बनाने वाले म्यूजिक निर्देशक प्यारे लाल

फ़िल्म 'मिस्टर इंडिया' न सिर्फ फ़िल्म के रूप में बल्कि फ़िल्म के गाने सिचुएशन को ध्यान में रखते हुए लिखे गये थे। इस बारे में फ़िल्म के निर्देशक प्यारे लाल बताते हैं कि यह मज़ेदार सफर रहा कि उन्हें हमने जितने भी गाने दिये, उस पर उन्होंने पूरा परफॉर्म किया और उसमें जान डाल दी। प्यारेलाल कहते हैं कि वह व्यक्तिगत तौर पर श्रीदेवी से लंबी बातचीत तो नहीं कर पाये थे कभी लेकिन, वह अपने काम को लेकर परफेक्ट थीं और गाने पर भी क्या एक्सप्रेशन के साथ परफॉर्म करती थीं। श्रीदेवी की खास बात थी कि जब भी वह मिलती थीं, पूरी स्माइल से ही मिलती थीं। घर जाने पर भी हमेशा बहुत आदर सत्कार करती थीं। उनका जाना बड़ी क्षति है।

यह भी पढ़ें: Box Office: 6 हफ़्तों बाद जान लीजिए 'संजू' की कमाई, आमिर से 'दंगल' हारे रणबीर

'मिस्टर इंडिया' में बाबुराम का किरदार निभाने वाले अंजन श्रीवास्तव यूं कर रहे हैं याद

अंजन श्रीवास्तव बताते हैं कि उन्होंने 'खुदा गवाह' में और 'मिस्टर इंडिया' में श्रीदेवी के साथ काम किया है। वह मानते हैं कि श्रीदेवी के बिना 'मिस्टर इंडिया' अधूरी थी। उस दौर में अंजन बताते हैं कि वह नये-नये थे। तो बहुत बातें नहीं करते थे लेकिन, सीन करने के दौरान श्रीदेवी काफी स्पॉनटेनियस काम करती थीं। उनको बहुत रिहर्सल करते कभी नहीं देखा। स्माइल उनकी हमेशा बरकरार रहती थी। अंजन बताते हैं कि जब वह इलाहाबाद बैंक से रिटायर हो रहे थे तो श्रीदेवी और बोनी दोनों को ही उस कार्यक्रम में शिरकत करने का बुलावा भेजा था और वो आए भी थे। 

Posted By: Shikha Sharma