नई दिल्ली, जेएनएन। सुशांत सिंह राजपूत का सुसाइड केस अब एक अलग ही पड़ाव पर पहुंच चुका है। मामले में सीबीआई ने उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ़ रिपोर्ट दर्ज़ कर ली है, वहीं प्रवर्तन निदेशालय ने सोमवार को रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक चक्रवर्ती और दोस्त सिद्धार्थ पिठानी से पूछताछ की। इधर, एक्टर रोहित रॉय ने सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर चल रही बयानबाज़ी और साजिशों की अपुष्ट कहानियों पर रोष जताया है। रोहित ने कहा कि यह सब बंद होना चाहिए।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, रोहित ने व्यंगात्मक लहज़े में कहा- एक दिन एक थ्योरी आती है कि फलां प्रोड्यूसर ने कुछ कहा था, इसलिए उसने डिप्रेशन में आकर क़दम उठा लिया। फिर अचानक एक एफआईआर दर्ज़ करवा दी जाती है और कोई दूसरा आदमी समानांतर जांच शुरू कर देता है और हमें एक नई विलेन- उनकी गर्लफ्रेंड मिल जाती है, जो उनका सारा पैसा ले गयी और रिपोर्ट्स के मुताबिक उसका परिवार काला जादू कर रहा है। हो सकता है, कल कोई और थ्योरी आए, और हमें नया विलेन मिल जाए। 

रोहित रॉय का मानना है कि इस तरह की कयासबाज़ी से बचना चाहिए क्योंकि जांच अभी चल रही है। रोहित ने लोगों से अपील की कि उन्हें मेंटल हेल्द पर बातचीत बंद नहीं करनी चाहिए, जो इस दुखद घटना की बुनियाद है। रोहित रॉय लॉक्ड इन लव शो में नज़र आने वाले हैं, जो डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ होगा। इस शो का निर्देशन रोहित ने पत्नी मानसी जोशी के साथ मिलकर किया है। 

सुशांत ने 14 जून को अपने बांद्रा स्थित फ्लैट पर सुसाइड कर ली थी। पोस्टमार्टम में इसकी पुष्टि हुई थी। हालांकि सुशांत के फैंस और बाद में परिवार ने भी सुसाइड थ्योरी को ठुकरा दिया और सीबीआई की मांग की। सुशांत के यहां से कोई सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ था, इसलिए सबको इस बात की हैरानी थी कि आख़िर सुशांत जैसा कामयाब सितारा, जिसका करियर भी अच्छा चल रहा था, सुसाइड कैसे कर सकता है। 

इन सवालों के जवाब हासिल करने के लिए सोशल मीडिया में लगातार सीबीआई जांच की मांग की जा रही थी। जुलाई अंत में सुशांत के पिता ने पटना में रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ़ आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज़ करवा दी। बिहार पुलिस ने मामला सीबीआई को देने की सिफ़ारिश केंद्र सरकार से कर दी, जिसे सीबीआई ने स्वीकार कर दिया। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021