नई दिल्ली, जेएनएन। 14 जून को सुशांत सिंह राजपूत का मृत शरीर उनके आवास पर मिला था। उनके आकस्मिक और दुखद निधन से पूरी इंडस्ट्री में शोक छा गया था। परिवार के साथ फैंस भी गहरे सदमे में थे। फ़िलहाल इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है, जिसमें मुख्यारोपी रिया चक्रवर्ती हैं। सुशांत की मौत के बाद से ही रिया सोशल मीडिया में ट्रोलर्स के निशाने पर हैं। उन्हें सुशांत के निधन के लिए ज़िम्मेदार माना जा रहा है।

पिछले दिनों रिया का इंटरव्यू एक न्यूज़ चैनल पर प्रसारित किया गया था, जिसके बाद कुछ सेलेब्रिटीज़ ने दोषी साबित होने तक रिया के मीडिया ट्रायल को ग़लत बताया। अब बॉलीवुड एक्ट्रेस विद्या बालन ने भी सुशांत की मौत के प्रकरण पर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के शोर-शराबे पर सवाल उठाते हुए आरोप सिद्ध होने तक संविधान का सम्मान करने की बात कही है। 

तेलुगु एक्ट्रेस लक्ष्मी मंचू ने ट्विटर पर एक पोस्ट लिखी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर मेरे साथ ऐसा कुछ होता है तो मैं चाहूंगी मेरे साथी मेरे साथ खड़े हों, उसी तरह रिया के साथ भी उन्हें खड़ा होना चाहिए। लक्ष्मी की इस पोस्ट के जवाब में विद्या बालन ने एक पोस्ट लिखी, जिसमें कहा गया है- इस बात को ज़ोर से कहने के लिए ईश्वर तुम्हें आशीर्वाद दे लक्ष्मी।

यह दुर्भाग्यशाली है कि एक प्यारे नौजवान सितारे की दुखद मौत मीडिया सर्कस बनकर रह गयी है। बिल्कुल इसी तरह, रिया चक्रवर्ती का तिरस्कार देखकर मेरा दिल टूट जाता है। क्या यह 'दोषी साबित होने तक निर्दोष' नहीं होना चाहिए, या अब 'निर्दोष साबित होने तक दोषी' माना जाए। आइए, एक नागरिक के संवैधानिक अधिकारों का सम्मान करें और क़ानून को उसका काम करने दें।

बता दें कि तापसी पन्नू ने भी लक्ष्मी मंचू की पोस्ट से सहमति जताते हुए रिया के मीडिया और सोशल मीडिया ट्रायल की निंदा की थी। उधर, मगंलवार को सीबीआई ने अपनी पूछताछ जारी रखी। रिपोर्ट्स के अनुसार, उनके माता-पिता को सीबीआई ने पूछताछ के लिए बुलाया। सोमवार को सीबीआई की स्पेशल टीम ने रिया से 9 घंटों तक पूछताछ की थी। सुशांत के पिता केके सिंह ने 25 जुलाई को रिया और 5 अन्य के ख़िलाफ़ पटना में रिपोर्ट दर्ज़ करवाई थी, जिसके बाद बिहार सरकार की संस्तुति पर केंद्र सरकार ने यह केस सीबीआई को सौंप दिया था।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस