अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। श्रीदेवी जितनी बेहतरीन अभिनेत्री रहीं, उतनी ही बेहतरीन डांसर भी थीं। उन्होंने जितनी भी फिल्में की, लगभग हर फिल्म में उनके डांस नंबर होते ही थे। फिर क्लासिकल डांस से लेकर बॉलीवुड मूव्स तक रूप की रानी चोरों का राजा, नागिन डांस, हवा-हवाई। चालबाज के डांस स्टेप्स आज भी काफी पसंद किये जाते हैं।

एक दौर में जब नाग-नागिन पर सबसे ज्यादा फिल्में बना करती थीं उस दौर में फिल्म नगिना का गाना मैं तेरी दुश्मन दुश्मन तू मेरा लोकप्रिय नंबर्स में से एक रहा और आज भी दर्शक उन गानों को याद करते हैं और खासतौर से श्रीदेवी के डांस मूव्स याद किये जाते हैं। खास बात यह है कि खुद श्रीदेवी ने मॉम के दौरान दिये अपने इंटरव्यू स्वीकारा था कि इसे गाने की मेकिंग कैसे हुई थी। श्रीदेवी ने बताया था कि इस गाने की लगभग 70 प्रतिशत शूटिंग तो बने हुए सेट पर हो चुकी थीं। लेकिन बाद में अभी कुछ हिस्से बाकी थे। मजेदार बात यह थी कि उनका सेट जिस जगह पर था, वहां दूसरा सेट बनने जा रहा था और वक्त कम था। तो ऐसे में गाने की शूटिंग के साथ-साथ सेट को तोड़ कर दूसरे सेट को बनाने का काम भी शुरू हो चुका था। ऐसे में फिल्म के निर्देशक हरमेश मल्होत्रा ने आकर कहा कि जल्दी-जल्दी शूटिंग खत्म करनी होगी, चूंकि सेट नहीं था तो श्रीदेवी और टीम को एक दीवार की तरफ कहा गया कि वहां शूटिंग पूरी की जाये। तो फिल्म का आधा हिस्सा सिर्फ दीवार के साथ पूरा किया गया। हालांकि यह गाना देखते हुए आप कभी इस बात का अनुमान नहीं लगा पायेंगे कि किस तरह से इस गाने की शूटिंग हुई थी।

यह भी पढ़ें: श्रीदेवी अपडेट: दुबई में कागज़ी कार्रवाई पूरी, अब मुंबई निकलने की तैयारी

याद हो कि हरमेश मल्होत्रा ने उस दौर में नागिन सीरिज में फिल्में बनायी थी। जहां मैं तेरी दुश्मन दुश्मन तू मेरा गाने पर ही फिल्म नगिना के बाद फिल्म निगाहें में भी श्रीदेवी ने ही परफॉर्म किया था। नगिना में जहां अमरीश पुरी सपेरा की भूमिका में थे। निगहों में अनुपम खेर सपेरा की भूमिका में थे। श्रीदेवी के इस डांस सीक्वेंस को कोरियोग्राफर सरोज खान ने कोरियो किया था।

यह भी पढ़ें: जिद में भी नंबर वन थीं श्रीदेवी, राजेश खन्ना तक ने मान ली थी हारकभी नहीं ली थी ट्रेनिंग

बता दें कि श्रीदेवी जितनी बेहतरीन क्लासिकल डांसर थीं, लेकिन उन्होंने कभी डांसिंग की ट्रेनिंग नहीं ली थी। उनके कोई गुरु नहीं थे। श्रीदेवी पहले फिल्मों में डांस करते हुए कॉन्शियस हो जाती थीं। उन्होंने खुद एक बातचीत में स्वीकारा था कि उनको अपनी लंबी हाथों और टांगों के साथ खुद को परदे पर नाचते देखना पसंद नहीं था।हिम्मतवाला में श्रीदेवी को चिन्नी प्रकाश कोरियोग्राफ करते थे। ट्रेनिंग नहीं होने के बावजूद श्रीदेवी को एक्टर ऑफ एक्सप्रेशंस माना जाता था। उनके कोरियोग्राफर उनके मूव्स से अधिक उनके चेहरे के एक्सप्रेशंस पर काम करते थे।

Posted By: Rahul soni

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप