नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड एक्टर और सामाजिक कार्यकर्ता सोनू सूद इन दिनों आयकर विभाग के रडार पर हैं। सोनू सूद पर एक लैंड डील में कर चोरी का आरोप लगा है, जिसके चलते उनसे जुड़े कई ठिकानों पर आयकर विभाग सर्वे कर रहा है। शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन आयकर विभाग की कार्यवाही जारी रही।

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, आयकर विभाग ने सोनू के ख़िलाफ़ जांच का दायरा बढ़ाते हुए शुक्रवार को कई जगह छापामारी की। सोनू के ख़िलाफ़ आयकर विभाग की कार्यवाही बुधवार को शुरू हुई थी। विभाग की टीमों ने छह जगह सर्च ऑपरेशन किया था। रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि मुंबई के अलावा लखनऊ में भी सोनू से जुड़े ठिकानों को सर्च किया गया था। विभागीय सूत्रों के मुताबिक, एक रियल एस्टेट डील और कुछ आर्थिक लेन-देन आईटी विभाग के रडार पर हैं। 

उधर, सोनू सूद पर आयकर विभाग की कार्रवाई के बाद राजनीति भी गरमा रही है। शिव सेना ने सामना में लिखे गये एक लेख में इस कार्यवाही को दोषपूर्ण बताया है और दावा किया कि बीजेपी को यह दाव उल्टा पड़ने वाला है।लेख में कहा गया कि जो पार्टी सबसे बड़ी सदस्यता होने का दावा करती है, उसे दिल भी बड़ा रखना चाहिए। 

बता दें, एक्टर सोनू सूद पिछले साल महामारी की वजह से हुए लॉकडाउन में फंसे लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए चर्चा में आये थे। सोनू ने देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे दिहाड़ी मजदूरों को निजी बसों और हवाई जहाज के ज़रिए उनके गृहनगरों तक पहुंचाया था। सोशल मीडिया के ज़रिए सोनू चैरिटी के काम में अभी भी जुटे हैं। इस साल दूसरी लहर के दौरान भी सोनू काफ़ी सक्रिय रहे और ज़रूरतमंदों के लिए दवा, अस्पताल और ऑक्सीजन का इंतज़ाम किया। 

कुछ दिन पहले दिल्ली सरकार ने सोनू को अपने कार्यक्रम देश का मेंटर्स से जोड़ा, जिसके तहत आर्थिक रूप से कमज़ोर बच्चों को करियर के लिए गाइड किया जाएगा। सोशल मीडिया में सोनू को चाहने वालों का भारी समर्थन मिल रहा है।

Edited By: Manoj Vashisth