मुंबई। शाहिद कपूर इन दिनों 'बत्ती गुल मीटर चालू' की शूटिंग कर रहे हैं। इस फ़िल्म का निर्देशन श्री नारायण सिंह कर रहे हैं, जिन्होंने 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' से बॉलीवुड में निर्देशक के रोल में डेब्यू किया था। 'बत्ती गुल मीटर चालू' के लिए शाहिद ने ऐसा कारनामा अंजाम दिया है, जिसे कम ही एक्टर कर पाते हैं।

दरअसल, इस फ़िल्म के क्लाइमैक्स में एक ऐसा भावुक दृश्य आएगा, जिसमें शाहिद को साढ़े तीन मिनट तक बिना रुके बोलना है। इस दृश्य को हाल ही में मुंबई में शूट किया गया है। शाहिद वक़ील के किरदार में हैं और यह एकाकी संवाद (मोनोलॉग) कोर्ट रूम सीन के दौरान आता है। सूत्रों के अनुसार, यह एकाकी संवाद 'हैदर' में शाहिद द्वारा बोले गये संवाद से भी लंबा है। ब्रेक के दौरान शाहिद ने अपनी पंक्तियों का अभ्यास किया। फिर सेट पर पहुंचकर निर्देशक से इसको लेकर सलाह-मशविरा किया और उसके बाद जब शाहिद ने इसे शूट किया तो हर कोई स्तब्ध रह गया। एक ही टेक में शाहिद ने साढ़े तीन मिनट लंबा मोनोलॉग दृश्य शूट किया। सेट पर मौजूद श्रद्धा कपूर, यामी गौतम और बाक़ी क्रू ने शाहिद के इस कारनामे पर तालियों से उनका स्वागत किया। 

श्री नारायण सिंह ने बताया कि अगर इस दृश्य में वो कोई पार्श्व संगीत भी नहीं डालते हैं तो भी इसका असर कम नहीं होगा। शाहिद जब इस दृश्य को शूट कर रहे थे तो सुनने वाला हर शख़्स भावुक हो गया था। श्री नारायण की यह दूसरी फ़िल्म है। वो कहते हैं, ''मैंने ज़्यादा एक्टर्स के साथ काम नहीं किया है, मगर शाहिद बेहद शानदार एक्टर हैं। उन्होंने बताया कि इस फ़िल्म के बाद वो शाहिद के साथ उत्तर प्रदेश में सेट एक थ्रिलर करने वाले हैं।'' 

'बत्ती गुल मीटर चालू' एक सोशल ड्रामा है, जिसमें बिजली कंपनियों के आसमान छूते बिलों की वजह से आम आदमी को होने वाली परेशानियों और उनके संघर्ष को दिखाया जाएगा। शाहिद की इस साल यह दूसरी रिलीज़ होगा। इससे पहले वो 'पद्मावत' में नज़र आ चुके हैं, जो 2018 की अकेली 300 करोड़ से अधिक कमाने वाली फ़िल्म है। 

Posted By: Manoj Vashisth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप