नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड अभिनेता शाह रुख खान और उनके परिवार के लिए शनिवार 30 अक्टूबर का दिन खास रहा। ड्रग्स मामले में जमानत मिलने के बाद अभिनेता के बेटे आर्यन खान अपने घर मन्नत पहुंचे। जिसके बाद अभिनेता के फैंस और करीबी काफी खुश हैं। इस महीने की शुरुआत में आर्यन खान का एक क्रूज पर चल रही रेव पार्टी में छापेमारी के दौरान गिरफ्तार किया था।

आर्यन खान पर ड्रग्स मामले की गतिविधियों में जुड़े रहने का आरोप है। वहीं 25 दिन बाद घर वापस आने पर अब शाह रुख खान और गौरी खान ने बेटे आर्यन की सुरक्षा को देखते हुआ बड़ा फैसला किया है। अंग्रेजी वेबसाइट बॉलीवुड लाइफ की खबर के अनुसार आर्यन खान की सुरक्षा को देखते हुए अब शाह रुख खान के पर्सनल बॉडीगार्ड उनके साथ रहेंगे और अभिनेता को आर्यन खान की जानकारी देंगे।

शाह रुख खान के पर्सनल बॉडीगार्ड का नाम रवि सिंह है जो हर समय अभिनेता के साथ साये की तरह रहते हैं, लेकिन अब वह आर्यन खान के पर्सनल बॉडीगार्ड बन गए हैं। रवि सिंह हर समय आर्यन खान के साथ रहेंगे, चाहे वह कहीं भी जाते हैं या कुछ भी करते हैं। शाह रुख खान के परिवार के करीबी सूत्रों ने बताया है कि ड्रग्स मामले में आर्यन खान का नाम आने के बाद से शाह रुख खान काफी हैरान हैं। उन्हें लगता है कि अगर रवि सिंह आर्यन के साथ होते तो शायद चीजें इस स्तर पर नहीं जातीं।

हालांकि शाह रुख खान के परिवार की ओर से इस तरह अभी तक कोई बयान नहीं आया है। शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान को मुंबई उच्च न्यायालय ने 28 अक्टूबर को जमानत दे दी है और 30 अक्टूबर को वह रिहा होकर अपने घर पहुंच गए हैं। उन्हें मुंबई में 2 अक्टूबर गांधी जयंती के दिन क्रूज पर ड्रग्स पार्टी करने के आरोप में जमानत मिली है। अब शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान मुंबई के आर्थर रोड जेल से निकलकर शनिवार सुबह घर पहुंच गए हैं। इस मौके पर उनके साथ शाह रुख खान के बॉडीगार्ड भी नजर आए।

अब हालिया खबरों के अनुसार शाह रुख खान का बेटा आर्यन खान अगले कुछ दिनों तक मन्नत से बाहर नहीं निकलेंगे। इसके पीछे कारण यह है कि उनके घर के बाहर पपराजी का भारी जमावड़ा होगा। आर्यन खान के जेल से छूटकर आने से पहले शाह रुख खान के घर मन्नत को काफी अच्छे से सजाया गया था। इसकी तस्वीरें और वीडियो भी वायरल हुई है। गौरतलब है कि आर्यन खान को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने 3 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था। उन्हें मुंबई उच्च न्यायालय ने 28 अक्टूबर को जमानत दे दी है। 

Edited By: Anand Kashyap