नई दिल्ली, जेएनएन। शाह रुख़ ख़ान अपनी एनजीओ मीर फाउंडेशन के ज़रिए ज़रूरमंदों की मदद करते हैं। उन्होंने अब एक ऐसे बच्चे की मदद की है, जो वायरल वीडियो में अपनी मृत मां के पास बैठ उसे जगाने की कोशिश कर रहा था। शाह रुख़ और मीर फाउंडेशन ने इस बच्चे को ढूंढने में मदद करने वालों का शुक्रिया अदा किया है। 

यह वीडियो मुज़फ्फरपुर स्टेशन का था। प्रवासी मजदूरों के मुद्दे के मद्देनज़र यह मार्मिक वीडियो सोशल मीडिया में ख़ूब वायरल हुआ था। मीर फाउंडेशन अब इस बच्चे की मदद कर रहा है। बच्चे के दादा-दादी के साथ फोटो शेयर करके फाउंडेशनन की ओर से कहा गया- मीर फाउंडेशन उन सभी का शुक्रगुज़ार है, जिन्होंने इस बच्चे तक पहुंचने में हमारी मदद की। अपनी मां को जगाने की कोशिश करने वाले वीडियो ने हम सब का दिल चीर दिया था। अब हम उसे सपोर्ट कर रहे हैं और अब वो अपने दादा की देखभाल में हैं।

शाह रुख़ ने भी इसको लेकर ट्वीट किया। किंग ख़ान ने लिखा- छोटे-से बच्चे को लेकर हमारे सम्पर्क में आने वाले सभी का शुक्रिया। हम सब दुआ करते हैं कि अपने पैरेंट की दुर्भाग्यपूर्ण क्षति से निपटने की उसे भगवान ताक़त दे। मुझे मालूम है कैसा लगता है। हमारा प्यार और सपोर्ट तुम्हारे साथ है बच्चे। 

शाह रुख़ ख़ान ने अपने पिता को बचपन में खो दिया था। उनकी मां को गुज़रे हुए 30 साल हो चुके हैं। डेविड लेटरमैन के साथ इंटरव्यू में शाह रुख़ ने कहा था कि उन्हें अपने माता-पिता से एक ही शिकायत है कि उन्होंने उनके साथ ज़्यादा वक़्त नहीं बिताया। 

शाह रुख़ अपनी दूसरी कम्पनी कोलकाता नाइट राइटर्स, रेड चिलीज़ एंटरटेनमेंट और रेड चिलीज़ वीएफएक्स के ज़रिए भी लगातार कोविड 19 की लड़ाई में मदद कर रहे हैं। हाल ही में अम्फान तूफ़ान के बाद उन्होंने पश्चिम बंगाल में प्रभावितों की मदद की। 

Posted By: Manoj Vashisth

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस