मुंबई। नेटफ्लिक्स पर 'सेक्रेड गेम्स' के पहले सीज़न को पसंद करने वाले दर्शकों के लिए अच्छी और बुरी ख़बर है। अच्छी ख़बर यह है कि इसके कुल चार सीज़न आने वाले हैं और बुरी ख़बर यह कि दूसरा सीज़न के लिए दर्शकों को लंबा इंतज़ार करना होगा।

सीरीज़ का पहला सीज़न आप में से कई लोग देख चुके होंगे। पहले सीज़न में कुल आठ एपिसोड रिलीज़ किये गये हैं। जिन लोगों ने आठों एपिसोड देख लिये हैं, उन्हें दूसरे सीज़न का बेसब्री से इंतज़ार होगा, क्योंकि सीरीज़ का आठवां एपिसोड जिस क्लाइमैक्स पर ख़त्म हुआ है, उसने इंतज़ार को बेसब्र बना दिया है। सूत्रों के मुताबिक़, सेक्रेड गेम्स का दूसरा सीज़न 2019 में आएगा। इस वेब सीरीज़ के कुल चार सीज़न होंगे, यानि दूसरे सीज़न के लिए आपको कम से कम छह महीने तो इंतज़ार करना ही होगा। 

अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवाने निर्देशित यह सीरीज़ विक्रम चंद्रा के थ्रिलर उपन्यास पर आधारित है, जो इसी नाम से 2006 में आया था। कहानी मुंबई पुलिस के इंस्पेक्टर सरताज सिंह और अंडरवर्ल्ड गैंगस्टर गणेश गायतुंडे के किरदारों पर आधारित है। ये दोनों किरदार क्रमश: सैफ़ अली ख़ान और नवाज़उद्दीन सिद्दीकी ने निभाये हैं। आम तौर गैंगस्टर फ़िल्मों में ये दोनों मुख्य किरदार आमने-सामने होते हैं, मगर सेक्रेड गेम्स में ये दोनों किरदार एक-दूसरे से टकराने के बजाए एक-दूसरे के पूरक हैं। 

नवाज़ का किरदार जहां कहानी को फ्लैशबैक में ले जाता है, वहीं सैफ़ का किरदार इसे भविष्य की और धकेल रहा है। 'सेक्रेड गेम्स' कुल 25 दिनों की कहानी है। नवाज़ के किरदार के ज़रिए सीरीज़ में भारतीय राजनीति के कई ऐसे चैप्टरों को दिखाया गया है, जिन्होंने राजनीति की दिशा और दशा ही बदलकर रख दी थी। राजीव गांधी के प्रधानमंत्रित्व काल में हुआ बोफोर्स सौदा, शाहबानो केस, नब्बे के दशक की शुरुआत में हुआ बाबरी मस्जिद प्रकरण और मुंबई में हुए सीरियल बॉम्ब ब्लास्ट, नवाज़ के ज़रिए सभी को कहानी में पिरोया गया है। वहीं, सैफ़ के किरदार के ज़रिए मौजूदा सिस्टम और सियासत का चेहरा दिखाया गया है।

सीरीज़ का स्क्रीनप्ले वरुण ग्रोवर ने लिखा है। इस सीज़न में नवाज़ और सैफ़ के अलावा राधिका आप्टे, नीरज कबी, आमिर बशीर, ल्यूक केनी, सुरवीन चावला, गीतांजलि थापा, एलनाज़ नौरोजी, समीर कोचर और पंकज त्रिपाठी जैसे कलाकार नज़र आ चुके हैं।

सेक्रेड गेम्स विवाद-

रिलीज़ होने के कुछ दिन बाद सीरीज़ विवाद में भी फंस गयी है। सीरीज़ में बेहद अश्लील गालियों की बौछार और न्यूडिटी को लेकर कुछ लोग ऐतराज़ जता रहे हैं तो बोफोर्स वाले दृश्य में पूर्व प्रधानमंत्री के ख़िलाफ़ नवाज़ के द्वारा की गयी अशोभनीय टिप्पणी पर भी कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया ज़ाहिर की है। निर्माताओं के ख़िलाफ़ एफआईआर भी दर्ज़ करवायी गयी है।

Posted By: Manoj Vashisth