नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त की बेटी त्रिशाला दत्त एक ऐसी स्टार किड हैं जो स्टार्स की चकाचौंध भरी दुनिया से पूरी तरह दूर हैं। आमतौर पर फेमस स्टार्स के बच्चे एक्टिंग को अपना करियर चुनते हैं, लेकिन त्रिशाला ने ऐसा नहीं किया उन्होंने एक आम इंसान की तरह साइकोथैरेपिस्ट बनने की पढ़ाई और आज वो न्यूयॉर्क में साइकोथैरेपिस्ट हैं। हालांकि त्रिशाला भले ही लाइमलाइट की दुनिया से दूर रहती हों, लेकिन सोशल मीडिया पर त्रिशाला की चर्चा किसी हीरोइन से कम नहीं है, उनकी फैन फॉलोइंग भी किसी हीरोइन से कम नहीं है। लोग त्रिशाला की पोस्ट का इंतज़ार करते हैं और उनकी पोस्ट सोशल मीडिया पर खूब वायरल भी होती हैं।

हाल ही में त्रिशाला ने अपने फैंस के साथ एक गेम खेला जिसमें लोगों ने उनसे उनकी पर्सनल लाइफ से लेकर प्रोफेशनल लाइफ तक से जुड़े तमाम सवाल पूछे। इन सवालों के त्रिशाला ने बहुत अच्छे से जवाब दिया और साइकोथैरेपी को लेकर ढेर सारी जानकारी भी दी। इस सेशन के दौरान एक यूज़र ने त्रिशाला से पूछा, ‘लोग आपको लगातार जज करते हैं इससे आप कैसे डील करती हैं’?

यूज़र के सवाल का जवाब देते हुए त्रिशाला ने बताया, ‘लोग मुझे तब से जज कर रहे हैं जब से मैंने सांस लेना शुरू की है। दुर्भाग्य से ये मेरे परिवार के नाम के साथ मुझे मिला है। जब आप ज्यादा जजमेंटल लोगों के साथ डील करते हैं तो आपको ज्यादा पर्सनली नहीं लेना चाहिए। जब लोग दुखी होते हैं, परेशान होते हैं, खोए हुए होते हैं और ख़ुद से अपने आसपस के लोगों से दूर होते हैं तो वो अपना गुस्स दूसरों पर निकालते हैं। वो लोगों को जज करना शुरू कर देते हैं। आपने ध्यान नहीं दिया? जब हम अपने आप से खुश नहीं होते हैं तो अपने आसपास के लोगों को ही जज करने लगते हैं, ब्लेम करने लगते हैं, बुरा मानने लगते हैं। ऐसा तब कोई नहीं करता जब वो खुश होता है। सबको खुश रखिए, सबकी इज्ज़त करिए, सबसे प्यार करिए उन्हें भी जो आपकी आलोचना करते हैं। इसलिए नहीं कि वो ये डिजर्व करते हैं, बल्कि इसलिए क्योंकि आप ये डिजर्व करते हैं'।

 

Edited By: Nazneen Ahmed