रुपेशकुमार गुप्ता, मुंबई। सलमान खान ने मुंबई में हुए एक कार्यक्रम में बताया कि बचपन में उनके पिता की माली हालत ठीक नहीं होने के बावजूद उन्होंने सलमान के लिए बहुत ही महंगी साइकिल खरीदी थी। सलमान बताना चाह रहे थे कि उनके परिवार के पैसे से ज़्यादा बच्चों की ख़ुशी को महत्व दिया जाता है।

सलमान ने पिता सलीम खान के ख़स्ताहाल दिनों को यादकर कहा कि जब वह छोटे थे तो उनके पिता बॉलीवुड में लेखक के तौर पर संघर्ष कर रहे थे। इसके बावजूद पापा ने उनकी की इच्छा पूरी करते हुए उन्हें एक साइकिल खरीदकर दी। जिसका मूल्य 3000 रूपये रहा होगा जबकि उस समय उनके पिता को 750 से 1000 रूपये महीना ही मिलता रहा होगा। वह एक चॉपर साइकिल जिसका उन दिनों बहुत क्रेज़ था। इस मौके पर सलमान खान ने फिल्मों में उनकी साइकिल यात्रा के बारे में कहा " साइकिल की जर्नी मेरी फिल्मों में भी चलती रही। जिसे मैंने बहुत फिल्मों में भी उपयोग किया। पिछली बार मैंने साइकिल का उपयोग फिल्म 'किक' में किया। 'मैंने प्यार किया' से यह यात्रा शुरू हुई। जिस भी फिल्म में मौका मिला मैंने उसका इस्तेमाल किया। अब 'ट्यूबलाइट' में भी हम साइकिल चला रहे है।"

यह भी पढ़ें:तस्वीरें: सलमान ने बजाया रेडियो तो झूमकर नाची मनाली की महिलाएं 

 

सलमान खान ने ये भी बताया कि जब वह छोटे थे तो पहली बार साइकिल चलना उन्होंने तब सीखा जब उनके पिता ने उनके लिए किराये पर साइकिल लाई थी और किराया 25 पैसे था। सायकिल सीखते समय उन्हें लगा था कि पापा उनकी साइकिल की सीट पकड़े हुए हैं लेकिन जब उन्होंने पीछे मुड़कर देखा तो ऐसा नहीं था। वह बहुत दूर खड़े थे। लेकिन फिर भी वो बिना किसी सहारे के सायकिल चलाते रहे। इंडो- चाइना वार के बैकड्रॉप में बनी ट्यूबलाइट को कबीर खान ने डायरेक्ट किया है और ये फिल्म ईद के मौके पर 23 जून को रिलीज़ हो रही है।

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस