रुपेशकुमार गुप्ता, मुंबई। संजय मिश्रा और रणवीर शौरी स्टारर फिल्म कड़वी हवा इन दिनों ख़ूब सुर्ख़ियों में हैं। ये फिल्म हवा में घुल रहे ज़हर की बात करती है । फिल्म में काम कर रहे रणवीर शौरी का मानना है कि ये फिल्म जीवन की कड़वी सच्चाई से रू-ब-रू करवाती है।

जागरण डॉट कॉम से हुई विशेष बातचीत में रणवीर शौरी ने बताया कि इस फिल्म में पर्यावरण के किसानों पर पड़ने वाले प्रभाव को बहुत ही सटीकता से दर्शाया गया है। रणवीर कहते हैं “फिल्म धौलपुर बुंदेलखंड में बनी हुई है। एक इलाका है जहाँ सूखा पड़ा हुआ है। वहां एक बूढ़ा और अंधा किसान बाकी किसानों की तरह कर्ज़ में डूबा हुआ है। उस गाँव में एक बहुत ही निर्दयी सूदखोर एजेंट आता है। उसकी ख्याति ही ऐसी है कि वह जिस गाँव में जाता है, वहां तीन-चार किसान आत्महत्या कर लेते हैं। रणवीर के मुताबिक शहरीकरण के चलते पर्यावरण को होनेवाले नुकसान को भी इस फिल्म में दर्शाया गया है। फिल्म 'कड़वी हवा' में संजय मिश्र ने एक अंधे और कर्ज में डूबे किसान की भूमिका निभाई है। इस फिल्म की शूटिंग बुंदेलखंड में हुई है।

यह भी पढ़ें:Box Office पर बालन हुईं बलवान, मंगलवार को कमाई इतनी

 

इस फिल्म में तिलोतमा शोम की भी अहम भूमिका है। उन्हें फिल्म 'हिंदी मीडियम' में देखा गया था। फिल्म 'कड़वी हवा' का निर्देशन नील माधब पांडा ने किया है और फिल्म 24 नवंबर को रिलीज़ होगी।

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस