नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड एक्टर रणवीर शौरी को कोविड-19 की सूचना सोशल मीडिया के जरिए देना भारी पड़ गया। गोवा के होटल में उनके साथ लोगों ने ऐसा बर्ताव किया कि वो हैरान रह गये। मुश्किल वक्त में लोगों की संवेदनहीनता खुलकर सामने आयी, जिसे भूलना मुश्किल है। रणवीर ने पूरे वाकये का जिक्र ट्विटर के जरिए किया है।  

रणवीर ने कई ट्वीट्स में घटना का विवरण दिया है। रणवीर ने बताया कि उन्होंने सोशल मीडिया में भले के लिए पोस्ट किया था, मगर जहां हम क्वारंटाइन में हैं, वहां इस पोस्ट की वजह से हमें हमारे कमरे के बाहर लगभग घेर लिया गया। दूसरे लोगों ने हमारे वहां होने की वजह से होटल पर दबाव बनाया। समाज में अवैज्ञानिक आधार पर किस तरह भेद किया जाता है, इसका वहां जमकर प्रदर्शन हुआ। जो लोग एक दिन पहले तक सेल्फी लेना चाहते थे, वो होटल स्टाफ को छूट और पैसे वापस करने के लिए ब्लैकमेल कर रहे थे, क्योंकि एक कमरे में हम लोग थे। यह अनुभव हमेशा याद रहेगा। इस पर मुझे हैरानी होती है कि क्या इस दुनिया को ईमानदारी की जरूरत है?

रणवीर के बेटे का कोविड-19 टेस्ट दूसरी बार भी पॉजिटिव आया है, जबकि वो दोबारा नेगेटिव आए हैं। रणवीर ने बताया कि अगले हफ्ते तक उन्हें आइसोलेट रहना पड़ेगा। 

बता दें, रणवीर अपने 10 साल के बेटे हारून के साथ छुट्टियों के लिए गोवा गये थे, जहां से लौटते वक्त रुटीन आरटी-पीसीआर टेस्ट के दौरान हारून का टेस्ट पॉजिटिव आया। दोनों में कोई लक्षण नहीं थे और फौरन क्वारंटाइन हो गये। रणवीर ने इसके साथ लिखा था कि लहर असली है। रणवीर ने बताया था कि कल दोबारा टेस्ट किया जाएगा। मेरा भी टेस्ट होगा। हालांकि, मेरा वैक्सीनेशन हो चुका है।

रणवीर की पोस्ट पर कई लोगों ने प्रतिक्रिया दी है और लोगों के व्यवहार पर हैरानी जतायी है। वहीं, उनके बेटे की जल्द सेहतमंद होने की कामना की है। बता दें, रणवीर हाल ही में जी5 की फिल्म 420 आईपीसी में एक वकील की भूमिका में नजर आये थे। उनके अभिनय को काफी पसंद किया गया था।

Edited By: Manoj Vashisth