रुपेशकुमार गुप्ता, मुंबई। फिल्म पद्मावत में अलाउद्दीन खिलजी की अहम और खलनायकी भूमिका को प्रभावी तरीके से निभाने वाले अभिनेता रणवीर सिंह का कहना है कि, वे इस भूमिका को निभाने से पहले डरे हुए थे। 

रणवीर सिंह कहते हैं कि, 'मैं सदैव ऐसी भूमिका की खोज में रहता हूं जो कि लोगों को चुनौतीपूर्ण लगे। इसके अलावा मैं ऐसी भूमिका की तलाश में था जो मुझे रोमांचित कर दे। फिर मैंने यह भी सोचा कि अगर मुझे नकारात्मक भूमिका निभानी ही है तो वह संजय लीला भंसाली की फिल्म क्यों न हो। इसके अलावा मैं जब पद्मावत की कहानी पढ़ रहा था तो मुझे भी बहुत डर लग रहा था। इसके अलावा मुझे मुझ पर भी अधिक संदेह था कि कही मैं इस भूमिका को निभाने के बाद इसके गर्त से उबर ही न पाऊं क्योंकि यह बहुत ही चुनौतीपूर्ण भूमिका थी। इसके अलावा मैं अपने करियर के उस दौर में इस भूमिका को निभाने के लिए तैयार भी नहीं था। ऐसी फिल्म करने के लिए वाकई बहुत तैयारी करनी पड़ती है।' आपको बता दें कि, फिल्म पद्मावत में दीपिका पादुकोण ने रानी पद्मावती की भूमिका निभाई है। जबकि फिल्म में महारावल रतन सिंह की भूमिका शाहिद कपूर ने निभाई है। 

फिल्म भारी विरोध के बावजूद 25 जनवरी को रिलीज़ की गई। संजय लीला भंसाली की इस फिल्म की बॉलीवुड जगत में तारीफ हो रही है। फिल्म की शूटिंग से शुरू हुआ विवाद इसकी रिलीज़ तक नहीं थमा था। रिलीज़ से पहले फिल्म में दो बदलाव किए गए। फिल्म का नाम पद्मावती से पद्मावत किया गया और इसके प्रसिद्ध घूमर गीत में वीएफएक्स का इस्तेमाल करके कुछ बदलाव किए गए। 

Posted By: Rahul soni

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस