मुंबई। प्रीति जिंटा से छेड़छाड़ व बदसलूकी मामले में उनके पूर्व मित्र नेस वाडिया अपने बचाव में जिनके बयान पुलिस में दर्ज कराना चाहते थे, उनमें दो इसके लिए तैयार नहीं हैं। पुलिस का कहना है कि दो सहयोग नहीं कर रहे हैं जबकि शेष की पहचान कर अभी उनसे संपर्क किया जाना है।

जांच से जुड़े एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि दो गवाहों से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि नेस ने जिन लोगों का नाम सूची में दिया है वे उनमें से नहीं हैं, लेकिन हमें नहीं लगता कि हम लोगों ने गलत लोगों से संपर्क किया।प्रीति के पूर्व मित्र नेस ने दो जुलाई को नौ गवाहों की सूची पुलिस को दी थी लेकिन वे लोग क्या करते हैं उसमें इसका उल्लेख नहीं था। अधिकारी ने बताया कि सिर्फ नाम से उनकी पहचान करना संभव नहीं है फिर भी हम अभी उनकी पहचान करने की कोशिश में जुटे हैं।

नेस की सूची में सेरिएका लाल, लोरेट्टा जोसफ, पूजा डडलानी, एन्नेलीन एडम्स, फराह उमरभाई, स्वीटी बर्मन, कमलेश शाह, रयान मुस्तफा और शरत नाथ। प्रीति ने 30 मई को आइपीएल के मैच के दौरान वानखेड़े स्टेडियम में नेस पर छेड़छाड़, गाली-गलौच करने और धमकी देने का आरोप लगाया है।

क्लिक करके पढ़ें, फेसबुक पर प्रीति जिंटा ने कौन से खुलासे किए

पढ़ें: नेस वाडिया की मां ने जेब्रा से की थी प्रीति जिंटा की तुलना

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप