नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड अभिनेत्री पूजा भट्ट किसी भी मुद्दे पर अपनी राय रखने से न तो पीछे रहती हैं और न शर्माती हैं। फिर चाहे सामाजिक-राजनीतिक से जुड़े मुद्दों हों या फिर उनकी खुद की निजी जिंदगी से जुड़े। पूजा भट्ट अपने इंटरव्यूज में अपनी शराब की लत पर अक्सर खुलकर बात करती रही हैं। एक बार फिर से उन्होंने अपनी शराब की लत को लकेर बड़ी बात बोली है।

पूजा भट्ट ने अंग्रेजी वेबसाइट फिल्मफेयर को इंटरव्यू दिया है। इस इंटरव्यू में अभिनेत्री ने अपने फिल्मी करियर और निजी जिंदगी को लेकर ढेर सारी बातें कीं। उन्होंने महिलाओं और शराब से जुड़े मुद्दों पर भी खुलकर बात की। पूजा भट्ट ने कहा, 'हम बहुत से चीजों को छुपाने की कोशिश करते हैं, लेकिन चार साल पहले जब मैंने शराब छोड़ने का फैसला किया तो मैंने तय किया इस पर मैं हमेशा खुलकर बात करूंगी।'

पूजा भट्ट ने आगे कहा, 'मैंने डैडी (1989) फिल्म से अपने करियर की शुरुआत की, जिसकी कहानी एक ऐसी लड़की की थी जो अपने पिता को शराब पीने से रोकती है। ऐसी ही परेशानी से मैं भी जूझ रही थी। मैं लोगों के पास यह बताने के लिए पहुंची कि यह कुछ ऐसा है जो किसी के साथ भी हो सकता है। महिलाओं को विशेष रूप से इसके बारे में थोड़ा और खुला होने की जरूरत है। और मैं उन अजनबियों की प्रतिक्रिया से अभिभूत जिन्होंने मेरे लिए दीं।'

पूजा भट्ट के इस बयान की काफी चर्चा हो रही है। आपको बता दें कि रविवार को पूजा भट्ट ने अपनी फिल्म 'दिल है के मानता नहीं' को याद किया। यह फिल्म साल 1991 में आज ही के दिन सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में पूजा भट्ट के साथ दिग्गज अभिनेता आमिर खान मुख्य भूमिका में थे। फिल्म 'दिल है के मानता नहीं' के रिलीज के 30 साल पूरे होने पर अब पूजा भट्ट ने इस फिल्म से जुड़ी एक खास बात का खुलासा किया।

अभिनेत्री ने सोशल मीडिया पर 'दिल है के मानता नहीं' से जुड़ी अपनी थ्रोबैक तस्वीरों को साझा कीं। जिसमें वह फिल्म के कलाकार अनुपम खेर और आमिर खान के साथ दिखाई दे रही हैं। पूजा भट्ट ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर फिल्म 'दिल है के मानता नहीं' की थ्रोबैक तस्वीरों को साझा किया। इन तस्वीरों के साथ उन्होंने बताया कि उस समय इस फिल्म के निर्माता गुलशन कुमार को कहा था कि यह फिल्म उनके लिए काफी जोखिम भरी हो सकती है, क्योंकि फिल्म की कहानी ही कुछ ऐसी थी। हालांकि फिल्म 'दिल है के मानता नहीं' साल की हिट फिल्म साबित हुई थी। 

Edited By: Anand Kashyap