मुंबई। कहां तो पद्मावत की रिलीज़ के लाले पड़े हुए थे, और अब रिलीज़ के बाद फ़िल्म थमने का नाम नहीं ले रही। बॉक्स ऑफ़िस पर पद्मावत के शानदार सफ़र ने 2018 को एक मज़बूत शुरुआत दे दी है। साल की पहली तिमाही में ही अगर कोई फ़िल्म 200 करोड़ का आंकड़ा जड़ दे, तो सोचिए आगे आने वाली फ़िल्मों की उम्मीदें कहां होंगी। 

बहरहाल, संजय लीला भंसाली की इस मैग्नम ओपस ने बिना रुके, बिना थके 16 फरवरी को चौथे हफ़्ते में प्रवेश ले लिया है। चौथे हफ़्ते के पहले दिन यानि शुक्रवार को पद्मावत ने 1.75 करोड़ का कलेक्शन किया, जो इसकी पकड़ को बताने के लिए काफ़ी है। बाद में रिलीज़ हुई फ़िल्मों की चुनौती के बावजूद पद्मावत अपनी जगह बनाने में कामयाब रही है। शुक्रवार के कलेक्शन के साथ पद्मावत 269.50 करोड़ जमा कर चुकी है। इसमें हिंदी, तमिल और तेलुगु भाषाओं का बिज़नेस शामिल है। 

यह भी पढे़ं: Box Office- मनोज और सिद्धार्थ की अय्यारी पर हॉलीवुड का ब्लैक पैंथर भारी

पद्मावत देशभर में 25 जनवरी को रिलीज़ हुई थी और आते ही छा गयी। लंबे विरोध के चलते फ़िल्म की रिलीज़ पहले खटाई में पड़ गयी थी। मगर, जब रिलीज़ हुई तो नए रिकॉर्ड बना लिये। अगर पद्मावत के हफ़्ते-दर-हफ़्ते कलेक्शन देखें जाएं, तो तस्वीर कुछ ऐसे बनती है- 

  • पहले हफ़्ते में फ़िल्म ने 166.50 करोड़ जमा किये।
  • दूसरे हफ़्ते में 69.50 करोड़ इकट्ठा किये।
  • तीसरे हफ़्ते में 31.75 करोड़ का कलेक्शन किया।

पद्मावत के ये आंकड़े बता रहे हैं कि दूसरे हफ़्ते में फ़िल्म के बॉक्स ऑफ़िस कलेक्शन में उल्लेखनीय गिरावट आयी है, मगर दूसरे और तीसरे हफ़्ते में फ़िल्म रुक-रुककर फिसली है। अगर 2017 से तुलना करें तो 2018 की शुरुआत बेहद शानदार हुई है। 2017 की पहली 200 करोड़ की फ़िल्म आख़िरी तिमाही में आयी थी, जब 20 अक्टूबर को रिलीज़ हुई अजय देवगन की गोलमाल अगेन ने 205 करोड़ जमा किये, जबकि 2018 ने पहले दो महीनों में ही 250 करोड़ की फ़िल्म दे दी है। 2017 में 25 जनवरी को रईस और काबिल रिलीज़ हुई थीं, जिन्होंने लगभग 137 करोड़ और 127 करोड़ का कलेक्शन किया था।

By Manoj Vashisth