दीपेश पांडेय, जेएनएन। हिंदी सिनेमा में करीब चार दशक से सक्रिय नीना गुप्ता इन दिनों काफी व्यस्त हैं। 6 अगस्त को जी5 पर रिलीज हो रही फिल्म ‘डायल 100’ में वह निगेटिव किरदार में नजर आएंगी। इस वक्त एक्ट्रेस फिल्म ‘गुड बाय’ में वह अमिताभ बच्चन के साथ काम कर रही हैं। उनकी वेब सीरीज ‘मसाबा मसाबा 2’ पर भी काम चल रहा है। आने वाली फिल्मों और जीवन के अन्य पहलुओं को लेकर नीना साझा कर रही हैं दिल की बातें...

पहली बार किया था इनकार:

नीना ने पहली बार ‘डायल 100’ को करने से इन्कार कर दिया था। वह बताती हैं, ‘पहले मुझसे एक लाइन में कहा गया था कि यह एक मां की कहानी है जो बदला लेती है तो मैंने कहा कि मुझे इस तरह की निगेटिव कहानी नहीं करनी है। फिर जब फिल्म के निर्देशक रेंजिल डिसिल्वा ने पूरी स्क्रिप्ट सुनाई तो बहुत अच्छी लगी और मैंने हामी भर दी। आगे भी मुझे जो किरदार या स्क्रिप्ट अच्छी लगेंगी, वे चाहे निगेटिव हों या पॉजिटव, मैं वे प्रोजेक्ट जरूर करूंगी।’

दिल से चुनती हूं प्रोजेक्ट:

किरदारों को लेकर लगातार प्रयोग कर रहीं नीना कहती हैं, ‘अगर मेरा दिल कहता है कि यह प्रोजेक्ट करना है तो मैं उसे करती हूं। अगर दिल दिमाग को सोचने के लिए कहता है तो उसका मतलब प्रोजेक्ट में कुछ न कुछ गड़बड़ है। बात दिल से दिमाग तक पहुंचने का मतलब होता है कि दिमाग में प्रोजेक्ट के बाकी पहलू चल रहे हैं, जैसे पैसे कितने मिलेंगे, निर्देशक कौन है, प्रोड्यूसर कौन है, आगे मुझे इस प्रोडक्शन में काम मिलेगा या नहीं? ऐसा मैं पहले करती आई हूं, क्योंकि पहले पैसों की जरूरत थी। अब सिर्फ दिल की ही बातें सुनकर फैसले करती हूं।’

बिग बी के साथ काम का अनुभव:

‘गुड बाय’ में अमिताभ बच्चन के साथ काम करने के अनुभव पर नीना कहती हैं, ‘उनके साथ काम करने में ज्यादातर सभी कलाकारों को शुरू में घबराहट होती है। शूटिंग से पहले उनके साथ फोटोशूट कराते समय मैंने उनसे कहा कि मैं नर्वस हूं तो वह हंसने लगे और पूछा कि नर्वस क्यों हो? उसके बाद धीरे-धीरे जब हम बातें करने लगे तो सबकुछ सामान्य लगने लगा। उनके लिए मन में तो सम्मान रहता था, लेकिन जब किरदार में होते थे तो हम दोनों उसी में रम जाते थे। फिलहाल मैं अमेरिका में अनुपम खेर के साथ फिल्म ‘शिव शास्त्री बल्बोआ’ की शूटिंग कर रही हूं। इसके बाद ‘मसाबा मसाबा 2’, ‘पंचायत 2’ की शूटिंग करूंगी। झोली में तीन फिल्में और हैं।’

बायोपिक में करना चाहूंगी काम:

हाल ही में नीना गुप्ता ने अपनी बायोग्राफी ‘सच कहूं’ पेश की है। नीना अपनी बायोपिक के सवाल पर कहती हैं, ‘फिलहाल तो ऐसा कुछ सोचा नहीं है, लेकिन अगर कभी बनती है तो मैं उसमें काम करना चाहूंगी। अभी तो मैं अपनी बायोग्राफी पर काम कर रही हूं। उसमें भाई और मां का चैप्टर लिखना सबसे मुश्किल था। अपनी बायोग्राफी का हिंदी अनुवाद मैं खुद ही कर रही हूं। जल्द ही हिंदी संस्करण उपलब्ध होगा।’

Edited By: Nazneen Ahmed