नई दिल्ली, जेएनएन। अपने बेहतरीन अभिनय के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुकीं अभिनेत्री ऊषा जाधव के हिस्से एक और सम्मान आया है। ऊषा को एनवाईसी साउथ एशियन फ़िल्म फेस्टिवल में बेस्ट एक्ट्रेस का पुरस्कार दिया गया। यह पुरस्कार उन्हें माई घाट- क्राइम नम्बर 103/2005 फ़िल्म के लिए दिया गया है।

एक सत्य घटना से प्रेरित इस फ़िल्म में ऊषा ने एक मां का रोल निभाया था, जिसके बेटे को पुलिस टॉर्चर करती है, जिससे उसकी मौत हो जाती है। दस साल की लम्बी लड़ाई के बाद मां अपने बेटे को इंसाफ़ दिलाने में कामयाब होती है। फ़िल्म का निर्देशन अनंत महावेदन ने किया, जबकि इसकी निर्माता मोहिनी गुप्ता हैं। बेस्ट डायरेक्टर के लिए अनंत महादेवन को चुना गया है। ऊषा ने अपने ट्विटर एकाउंट से इसकी सूचना साझा की है। 

ऊषा हिंदी और मराठी सिनेमा की जानी-मानी अदाकारा हैं। उन्होंने हिंदी सिनेमा में अपना सफ़र मधुर भंडारकर की फ़िल्म ट्रैफिक सिग्नल से शुरू किया था। 2012 में आयी मराठी फ़िल्म धग के लिए ऊषा को बेस्ट एक्ट्रेस का नेशनल फ़िल्म अवॉर्ड दिया गया था।

2014 में आयी भूतनाथ रिटर्न्स में ऊषा ने अमिताभ बच्चन के साथ स्क्रीन स्पेस शेयर किया। ऊषा की पिछली हिंदी फ़िल्म वीरप्पन है, जिसमें ऊषा ने वीरप्पन की पत्नी का किरदार निभाया था। ऊषा ने छोटे पर्दे पर भी अपनी अदाकारी का हुनर दिखाया है। 

2012 में ही उन्होंने लाखों में एक धारावाहिक में काम किया था। ऊषा ने अपने करियर में अधिकतर ऐसे ही किरदार अदा किये हैं, जो ज़िंदगी की ज़द्दोजहद में डूबे लोगों की कहानी कहते हैं। इन किरदारों को ऊषा ने काफ़ी संजीदगी से निभाया है, जो पर्दे पर दिखता भी है।

Posted By: Manoj Vashisth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप