नई दिल्ली, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ओपन लेटर लिखने के मामले में कुछ दिन पहले 49 सेलेब्रिटज के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज हुआ था, हालांकि बिहार पुलिस ने इस केस को ‘झूठा’ बताते हुए इसे बंद कर दिया। लेकिन अब बीते सोमवार को 180 लोगों द्वारा नया लेटर जारी किया गया है। इस लेटर में नसीरुद्दीन शाह समेत सभी लोगों ने पूछा है कि प्रधामंत्री को ओपन लेटर लिखना किस तरह राज-द्रोह हो सकता है? इस मामले पर नसीरुद्दीन ने खुलकर बात भी की है।

मुंबई में आयोजित हुए 9th एडिशन ऑफ इंडियन फिल्म प्रोजेक्ट में नसीरुद्दीन ने एक्टर-डायरेक्टर आनंद तिवारी से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर खुलकर अपनी बात रखी। नसीरुद्दीन ने कहा, समाज हो रही मॉब लिचिंग की घटनाओं पर वो बयान पर कायम हैं। देश में हो रही हिंसक घटनाओं को लेकर भी एक्टर ने चिंता ज़ाहिर की।

नसीरुद्दीन ने कहा, ‘उन्होंने कहा, फिल्म इंडस्ट्री के साथ मेरा कभी भी कोई करीबी रिश्ता नहीं रही। मुझे नहीं पता कि मेरे खड़ा होना प्रभावित करेगा भी या नहीं क्योंकि मुझे बहुत ज्यादा काम नहीं मिलता है। लेकिन मैंने जो महसूस किया, मैंने कहा और मैं इस पर खड़ा हूंट। एक्टर ने कहा ‘मैंने ऐसे लोगों से गालियां सुनीं जिनक पास करने के लिए ढंग का काम नहीं है, लेकिन इन सब चीज़ों से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। मुझे जिस चीज़ से फर्क पड़ा रहा है वो है समाझ में बढ़ रही नफरत से’। इसके अलावा नसीरुद्दीन ने गाय को लेकर हुई मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर भी दुख ज़ाहिर किया।

Posted By: Nazneen Ahmed

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस