मुंबई। वेटरन एक्टर नाना पाटेकर को इस बात की खुशी है कि मराठी सिनेमा में अच्छी कहानियां देखने को मिल रही हैं। नाना पाटेकर की फिल्म आपला माणूस हाल ही में 9 फरवरी को रिलीज़ हुई है जो कि मराठी फिल्म है।

मराठी फिल्मों की बात करें तो देवा, सैराट, नटसम्राट, बालक पलक और शवास जैसी फिल्में बड़ी रही हैं। 9 फरवरी को नाना पाटेकर की मराठी फिल्म आपला माणूस ने सिनेमाघरों में दस्तक दी। पीटीआई के मुताबिक अपनी फिल्म के बारे में बात करते हुए 67 साल के अभिनेता नाना पाटेकर ने बताया कि अच्छी फिल्में खुद अपना स्पेस क्रिएट कर ही लेती हैं। अगर आप फिल्में अच्छी कहानियों के साथ बनाएं तो लोग उसे देखने जरूर जाते हैं। इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि कहानियां अच्छी हों और अॉडियंस से जुड़ने वाली हों जिससे देखने वाले एंजॉय कर सकें। अगर आप खराब फिल्म बनाएंगे तो वह नहीं चलेगी। लेकिन अगर आप अच्छी फिल्म बनाएंगे तो वो हमेशा के लिए चलेगी। नाना ने इस बात की खुशी जताई है कि, मराठी सिनेमा में अच्छी कहानियां देखने को मिल रही हैं। 

यह भी पढ़ें: फिर बदला कपिल शर्मा के शो का नाम, इस Video में है सबूत

नाना ने आगे यह भी कहा कि, मराठी फिल्मों के कम स्क्रीन मिलती हैं जो कि नहीं होना चाहिए। मराठी फिल्मों को मिनिमम स्क्रीन तो मिलना ही चाहिए। महाराष्ट्र में मराठी फिल्मों को कम स्क्रीन मिलती हैं जो कि गलत है। आगे अजय देवगन को लेकर नाना कहते हैं कि, अजय ने सिर्फ फिल्म में रूपये लगाए हैं। वो बहुत कम सेट पर आया करते थे। उनकी तरफ से कोई दखल नहीं था। वो अच्छी इंसान हैं।

यह भी पढ़ें: Box Office: पैड मैन चौथे दिन भी मजबूत, विदेश में कमाये 14 करोड़ से ज़्यादा

आपको बता दें कि, फिल्म आपला माणूस को अजय देवगन ने को-प्रोड्यूस किया है। वहीं, निर्देशन सतीश राजवाड़े ने किया है। फिल्म में नाना पाटेकर के अलावा सुमित राघवन और इरावती हर्षे की मुख्य भूमिका है।

Posted By: Rahul soni