Move to Jagran APP

Munjya: कहां से निकली 'मुंज्या' की कहानी, जानिए क्या है टाइटल का असली मतलब?

हॉरर कॉमेडी फिल्म मुंज्या (Munjya) इस वक्त जमकर सुर्खियां बटोर रही है। बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई कर इस फिल्म ने सबको हैरान कर दिया है। खासतौर पर फिल्म के टाइटल ने हर किसी का ध्यान खींचा है। फैंस इस सोच में हैं कि आखिर मुंज्या (Munjya Meaning) का मतलब क्या है और इसकी कहानी कहां से संबंधित है। चलिए अब इसे पूरे मामले को डिटेल्स में जानते हैं।

By Ashish Rajendra Edited By: Ashish Rajendra Thu, 20 Jun 2024 02:55 PM (IST)
मुंज्या के बारे में जानिए सब कुछ (Photo Credit-Jagran)

एंटरटेनमेंट डेस्क, नई दिल्ली। मौजूदा समय में हिंदी सिनेमा की किसी फिल्म की चर्चा सबसे अधिक हो रही है तो वह सुपरनेचुलर हॉरर कॉमेडी मुंज्या (Munjya) है। आउट ऑफ सेलेब्स आकर इस मूवी ने कामयाबी का परचम लहराया है। हर कोई अभय वर्मा और शरवरी वाघ (Sharvari Wagh) की मुंज्या की बातें कर रहा है और बॉक्स ऑफिस पर भी ये फिल्म कमाई के मामले में हर रोज गर्दा उड़ा रही है। 

मुंज्या (Meaning of Munjya) की कहानी और टाइटल को लेकर फैंस के जहन में कई सवाल उमड़ रहे हैं कि फिल्म की कहानी कहां से संबंधित है और इसके नाम का असली मतलब क्या होता है। आइए इस लेख में हम आपको सारी जानिकारियां विस्तार से बताने जा रहे हैं। 

कहां से संबंधित है मुंज्या का कहानी

मुंज्या एक लोक कथा पर आधारित फिल्म है। जो महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र से जुड़ी है। फिल्म के निर्देशक आदित्य सरपोतदार ने एक मीडिया इंटरव्यू में मुंज्या को लेकर खुलकर बात की। उन्होंने बताया- मैं कोंकण से नाता रखता हूं और जब भी बचपन में गांव जाता था तो वहां बुर्जुग लोग मुंज्या को लेकर किस्से सुनाते थे। 

ये भी पढ़ें- Munjya Worldwide Collection: वर्ल्डवाइड 'मुंज्या' ने कर डाली मौज, 100 करोड़ के आंकड़े से महज इतनी दूर

Photo Credit-X

वो कहते थे कि मुंज्या एक भूत है और पीपल के पेड़ पर निवास करता है। एक बच्चा होने की वजह से उस वक्त मैं काफी डर जाता था। लंबे समय से मेरे जहन में ये कहानी थी और मुंज्या के जरिए मैंने इसे वास्तविकता की पृष्ठभूमि पर उतारने की कोशिश की है। 

क्या होता है मुंंज्या का मतलब

मुंज्या फिल्म के टाइटल को लेकर काफी सस्पेंस है और सब ये जानना चाहते हैं कि आखिरकार इसका क्या अर्थ होता है। दरअसल मुंज्या एक मतलब कोंकण क्षेत्र में प्रचलित एक जनऊ रश्म से है। इसमें 5-7 साल के बच्चे का मुंडन किया जाता है और फिर उसको जनऊ पहनाया जाता है। 

Photo Credit-X

गौर करने वाली बात ये है अगर 10 दिन भीतर उस बच्चे की मृत्यु हो जाती है, तो वह ब्रह्म राक्षस बन जाता है और अपनी अधूरी इच्छा को पूरा करने के लिए वह भटकता रहता है।  लोक कथा के आधार पर उसे मुंजा भी बुलाते हैं। 

फिल्म में किया गया ये बदलाव 

लोक कथा से प्रेरित होने के बावजूद मेकर्स ने मुंज्या की कहानी को काफी बढ़ा-चढ़ा कर दिखाया गया है। हालांकि मनोरंजन के माध्यम के हिसाब से दर्शकों को ये काफी पसंद आ रहा है। दरअसल मुंज्या में शरवरी वाघ का आइटम सॉन्ग 'तरस' निर्माताओं की प्री प्लानिंग का हिस्सा नहीं था। इसे बाद में फिल्म में एड किया गया है। 

Photo Credit-X

बॉक्स ऑफिस पर छाई मुंज्या 

अपनी शानदार कहानी और फिल्म कलाकारों की एक्टिंग के दम पर मुंज्या सुपरहिट साबित हो चुकी है। रिलीज के 13 दिन में ही इस मूवी ने बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा दी है और 68 करोड़ का बेहतरीन कलेक्शन कर के दिखाया है। मालूम हो कि मुंज्या के निर्माता दिनेश विजान और अमर कौशिक हैं।

Photo Credit- X, Maddock Films

इनकी जोड़ी इससे पहले स्त्री, भेड़िया और रूही जैसी कमाल की हॉरर कॉमेडी फिल्में बना चुकी है। आने वाले समय में भी ये दोनों स्त्री 2 और भेड़िया 2 लेकर आ रहे हैं। 

ये भी पढ़ें- सिर्फ Munjya ही नहीं, इन हॉरर कॉमेडी फिल्मों ने भी बॉक्स ऑफिस पर जमकर मचाया तांडव