मुंबई। कान फ़िल्म फेस्टिवल से मल्लिका शेरावत का रिश्ता काफ़ी पुराना है। फेस्टिवल के रेड कार्पेट पर अक्सर मल्लिका का जलवा नज़र आता है, लेकिन इस बार 71वें फ़िल्म समारोह में मल्लिका ने एक ऐसा काम किया, जिसकी ख़ूब तारीफ़ हो रही है। इस फेस्टिवल से मल्लिका ने लड़कियों से जुड़ी एक संस्था के लिए 55 हज़ार यूरो यानि लगभग 43 लाख रुपए जुटाने में कामयाबी हासिल की है। 

मल्लिका शेरावत Free A Girl केंपेन की एम्बेस्डर हैं और इस संस्था के ज़रिए ऐसी लड़कियों की मदद करती हैं, जो यौन अपराधों की शिकार बनती हैं। इस कॉज़ को सपोर्ट करने के लिए मल्लिका ने कान फ़िल्म फेस्टिवल में ख़ुद को एक पिंजरे में बंद किया था और दुनियाभर को संदेश देने की कोशिश की। मल्लिका ने इसका वीडियो इंस्टाग्राम एकाउंट पर पोस्ट भी किया था। पिंजरे के बाहर लिखा था- ''लॉक मी अप, फ्री अ गर्ल।'' यानि मुझे बंद कर दो, मगर एक लड़की को आज़ाद कर दो। मल्लिका ने बच्चियों की आज़ादी के लिए ख़ुद को पिंजरे में क़ैद किया था। 

वीडियो में पिंजरे से मल्लिका कहती दिख रही हैं- ''मैं इस पिंजरे में कैद हूं। इसका साइज़ 2 मीटर्स है, जो भारत में ऐसे ही एक कमरे का प्रतिरूप है, जिसमें छोटी बच्चियों को जबरन बंद करके रखा जाता है और उन्हें प्रोस्टिट्यूशन में धकेल दिया जाता है। कृपया लड़कियों को इससे छुड़ाने में मदद करें। न्याय के इस काम में मदद करें।'' (So I am locked up in this cage, the size of this case is two meters which is representative of a room in a brothel in India where little girls are locked and trapped and forced in to child prostitution. Please support free a girl. Please support this cause of justice.)  

 

 

 

“Every minute we don’t do something there is a woman suffering abuse “ @freeagirlindia #freeagirl #schoolforjustice #womensrights #supportgirls #cannes2018 #cannesfilmfestival #cannes #lockmeup

A post shared by Mallika Sherawat (@mallikasherawat) on

मल्लिका ने इस पोस्ट के साथ संदेश भी लिखा- ''हर मिनट जब हम कुछ नहीं करते हैं तो एक औरत अत्याचार की शिकार हो रही होती है।'' पिंजरे में बंद होने से पहले मल्लिका ने एक और वीडियो पोस्ट करके इस मुद्दे पर लोगों की मदद मांगी। 

 

 

 

Pls Support Free a girl #cannes2018 #cannesfilmfestival #womensrights #cannes @freeagirlindia #freeagirl #schoolforjustice

A post shared by Mallika Sherawat (@mallikasherawat) on

कान फ़िल्म फेस्टिवल में दुनियाभर के फ़िल्ममेकर्स और कलाकार और सेलेब्रिटीज़ जमा होते हैं। ऐसे में किसी मुद्दे को यहां रखने पर आवाज़ दूर तक जाती है। 2017 में भी मल्लिका ने कान में फ्री अ गर्ल केंपेन को सपोर्ट किया था। कान फ़िल्म फेस्टिवल में मल्लिका शेरावत नियमित रूप से जाती रही हैं। फ़िल्मों के प्रमोशन के लिए मल्लिका कान की मेहमान बनती रही हैं। 

 

 

 

Cannes ❤️❤️ @tonywardcouture @piaget @wil_ariyamethe @ferragamo #cannesfilmfestival #cannes2018 #bollywood #cannes #cannesredcarpet

A post shared by Mallika Sherawat (@mallikasherawat) on

मल्लिका पहली बार कान फ़िल्म फेस्टिवल का हिस्सा 2005 में बनी थीं, जब अपनी इंटरनेशनल फ़िल्म द मिथ को प्रमोट करने वो वहां पहुंचीं। इस फ़िल्म में उनके साथ जैकी चैन थे। 2010 में अपनी इंटरनेशनल फ़िल्म हिस्स को प्रमोट करने के लिए मल्लिका ने कान फ़िल्म फेस्टिवल में 15 फुट लंबे अजगर के साथ एंट्री ली थी। फ़िल्म का ट्रेलर भी कान फ़िल्म फेस्टिवल में ही रिलीज़ किया गया था।

 

 

 

Moments before the Cannes film festival red carpet @yolancris @koralcommunication @messika @renecaovilla @alexandramathieucoachbeaute @wil_ariyamethe

A post shared by Mallika Sherawat (@mallikasherawat) on

रेड कार्पेट पर उनकी मौजूदगी को ख़ूब सराहा जाता रहा है। मल्लिका के गाउन और ड्रेसेज़ फ़ैशनपरस्तों की नज़र में आते रहे हैं। मल्लिका के अलावा बॉलीवुड से ऐश्वर्या राय बच्चन, दीपिका पादुकोण और सोनम कपूर भी कान फ़िल्म समारोह के रेड कार्पेट की रौनक बढ़ाती रही हैं। इस साल से कंगना रनौत भी इस ब्रिगेड में शामिल हो गयी हैं।

कंगना ने इस साल कान में डेब्यू किया और अपने स्टाइल के लिए जमकर तारीफ़ें बटोरीं। ऐश्वर्या इस बार आराध्या के साथ कान गयी थीं। सोनम कपूर शादी के फौरन बाद कान पहुंची। 71वां कान फ़िल्म फेस्टिवल 8 मई से 19 मई तक जारी रहा।

Posted By: Manoj Vashisth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप