नई दिल्ली, जेएनएन। फिल्म एंड टीवी इंडस्ट्री का काम लंबे वक्त से ठप पड़ा है। लॉकडाउन के बाद बंद पड़े शूटिंग, प्रोडक्शन वर्क, सिनेमाघरों से इंडस्ट्री को काफी नुकसान हो रहा है। हालांकि, अब धीरे-धीरे इंडस्ट्री का काम भी पटरी पर लौटने वाला है। कई फिल्मी संगठनों की ओर से शूटिंग शुरू करने की इजाजत मांगने के बाद महाराष्ट्र सरकार ने फिल्म निर्माताओं को काम शुरू करने के लिए हरी झंडी दिखा दी है। हालांकि, फिल्म मेकर्स को काम शुरू करने के साथ ही कई दिशा निर्देशों का पालन भी करना होगा।

सरकार ने शूटिंग कार्य शुरू करने के साथ ही दिशा-निर्देशों की एक लिस्ट भी जारी की है, जिनका सभी मेकर्स को काम के दौरान पालन करना होगा। वहीं, काम कब से शुरू होगा इस बात का फैसला निर्माताओं पर ही छोड़ दिया गया है। पहले ही कहा जा रहा है कि काम पर लौटने वाले प्रत्येक व्यक्ति का मेडिकल टेस्ट होना आवश्यक है। सरकार की ओर से काम शुरू करने की इजाजत मिलने के बाद मेकर्स प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का शुक्रिया अदा कर रहे हैं।

सरकार की ओर से जारी की गई दिशा-निर्देशों में इन बातों का ध्यान देने के लिए कहा गया है-

- सभी उपकरण जैसे- कम्प्यूटर, कीबोर्ड, माउस, टेलीफोन, टेबल आदि को सेनेटाइज किया जाना आवश्यक है।

- कर्मचारियों की कुर्सियां दूर-दूर होनी चाहिए।

- स्टूडियो में आने और जाने से पहले हाथों को सेनेटाइज किया जाना आवश्यक है।

- प्लास्टिक की कुर्सी का ज्यादा इस्तेमाल हो।

- मास्क के साथ ऑक्सीजन और तापमान की अनिवार्य रुप से जांच।

- वेंटिलेशन के लिए खिड़कियां और गेट खुले रहें।

- आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल।

बता दें कि इससे पहले कई फिल्म कर्मचारी संगठन सरकार को पत्र भेज चुके हैं और कई संगठनों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात भी की है। संगठनों की मांग थी कि जल्द से जल्द काम शुरू करने की इजाजत मिलनी चाहिए, क्योंकि कई प्रोजेक्ट बीच में रुके हुए हैं और फिल्म इंडस्ट्री के लोगों के सामने अब आर्थिक संकट खड़ा हो रहा है। साथ ही संगठनों ने खुद की ओर से भी कुछ दिशा-निर्देश भेजे थे, जिनका काम शुरू होने के बाद पालन किया जाएगा।

 

Posted By: Mohit Pareek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस