नई दिल्ली, जेएनएन। हिंदी सिनेमा की मशहूर और दिग्गज गायिका लता मंगेशकर एक बार फिर से अस्पताल में भर्ती हैं। बीते दिनों वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो गई थीं, जिसके बाद से लता मंगेशकर मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती हैं। पहले ही दिन से गायिका का इलाज आईसीयू में चल रहा है। वहीं डॉक्टर सहित लता मंगेशकर के करीबी समय-समय पर उनकी तबीयत का हाल दे रहे हैं।

अब खबर है कि लता मंगेशकर के जल्द ठीक होने के लिए उनके घर पर भगवान शिव की पूजा रखी गई है। अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार आशा भोसले ने लता मंगेशकर की तबीयत का हाल दिया है। उन्होंने कहा कि उनकी सलामती और जल्द ठीक होने के लिए घर पर भगवान शिव के रुद्र की स्थापना की गई है। साथ ही उनके लिए पूजा पाठ भी हो रही है।

आशा भोसले को बताया गया कि लता मंगेशकर की तबीयत खराब होने की खबरें आ रही हैं, इस पर दिग्गज गायिका ने कहा, 'नहीं-नहीं, इस तरह की खबरें गलत हैं। मैंने सिर्फ 30 मिनट पहले भाभी, अर्चना और उषा से बात की थी, लेकिन आशा जी ने कहा कि हम सभी को दीदी की सलामती के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। वह हमारे परिवार में सबकी मां जैसी हैं। उनके घर पर शिव भगवान के रुद्र बिठाए हैं और उनके ठीक होने के लिए पूजा-पाठ कर रहे हैं।'

आपको बता दें कि लता मंगेशकर का 11 जनवरी को कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनका डॉक्टरों की देख-रेख में इलाज चल रहा है। 92 वर्षीय लता मंगेशकर की भतीजी रचना ने उनके कोरोना से संक्रमित होने की जानकारी दी थी। उनकी भतीजी रचना ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया था कि वह माइल्ड कोविड पाजिटिव है। उनकी उम्र को देखते हुए, डाक्टरों ने आईसीयू में रखा हुआ है क्योंकि उन्‍हें निरंतर देखभाल की आवश्यकता होती है।

रचना ने कहा कि डाक्‍टरों का कहना है कि वह ठीक हो जाएगी। लेकिन उम्र अधिक होने के कारण इसमें थोड़ा समय लगेगा। लता मंगेशकर को इससे पहले सितंबर 2019 में अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जब उन्हें सांस लेने में तकलीफ की शिकायत हुई थी। 92 वर्षीय गायिका लता मंगेशकर ने हिंदी समेत कई भाषाओं में हजारों गाने रिकार्ड किए हैं। वह अन्य सम्मानों के साथ तीन राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, दादा साहब फाल्के पुरस्कार और भारत रत्न से भी सम्‍मानित हो चुकी हैं। 

Edited By: Anand Kashyap