नई दिल्ली, जेएनएन। करण जौहर निर्देशित फ़िल्म कुछ कुछ होता है को 16 अक्टूबर को 22 साल पूरे हो गये। फ़िल्म 1998 में रिलीज़ हुई थी। शाह रुख़ ख़ान को जिन फ़िल्मों ने बॉलीवुड में किंग ऑफ़ रोमांस का ख़िताब दिलवाया है, उनमें 'कुछ कुछ होता है' की ख़ास जगह है। इसके साथ करण जौहर के डायरेक्टोरियल करियर को भी 22 साल पूरे हो गये हैं। इस फ़िल्म से उन्होंने बॉलीवुड में निर्देशक के तौर पर अपना करियर शुरू किया था।

'कुछ कुछ होता है' में शाह रुख़ के साथ काजोल और रानी मुखर्जी ने मुख्य भूमिकाएं निभायी थीं। फ़िल्म बेहद कामयाब रही थी और इसने करण जौहर को उन निर्देशकों की पंक्ति में खड़ा कर दिया था, जिन्होंने पहली ही फ़िल्म के साथ कामयाबी हासिल की हो। करण ने इस मौक़े पर फ़िल्म के कुछ यादगार मोमेंट्स का वीडियो इंस्टाग्राम पर शेयर किया है, जिसमें शाह रुख़ ख़ान, काजोल और रानी मुखर्जी अपने पसंदीदा लम्हों का ज़िक्र कर रहे हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

#22yearsofKKHH.....memories of a lifetime ...eternally grateful for all the love ❤️🙏

A post shared by Karan Johar (@karanjohar) on

22 साल गुज़र चुके हैं और करण जौहर इस बीच एक डायरेक्टर के साथ कामयाब प्रोड्यूसर भी बन चुके हैं, जिन्होंने अपनी कंपनी के ज़रिए ना सिर्फ़ बॉक्स ऑफ़िस हिट फ़िल्में दी हैं, बल्कि कई नये चेहरों को बॉलीवुड में लांच किया है।

कहानी लिखने के बाद नहीं बनाना चाहते थे फ़िल्म

'कुछ कुछ होता है' बनने की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है। करण ने पहले एक असंवेदनशील लड़के, टॉम बॉइश लड़की और एक ख़ूबसूरत लड़की के बीच लव ट्रांयगल की कहानी लिखी, मगर इस पर फ़िल्म बनाने का इरादा छोड़ दिया था। इसके बाद उन्होंने एक विधुर (widower) और उसकी बेटी के रिश्ते पर कहानी लिखी, मगर इसे भी पर्दे पर नहीं ले गये। आख़िरकार करण ने दोनों कहानियों को मिलाकर 'कुछ कुछ होता है' की स्क्रिप्ट लिखी।

ट्विंकल खन्ना ने ठुकरा दिया था टीना का किरदार, रानी को मिला

कुछ कुछ होता है में रानी मुखर्जी का टीना वाला रोल करण ने अपनी बेहद अच्छी दोस्त ट्विंकल खन्ना को ज़हन में रखकर लिखा था, मगर ट्विंकल ने फ़िल्म ठुकरा दी, जिसके बाद करण ने तब्बू, शिल्पा शेट्टी, उर्मिला मातोंडकर, ऐश्वर्या राय, रवीना टंडन और करिश्मा कपूर को रोल ऑफ़र किया, मगर कोई राज़ी नहीं हुआ। आख़िरकार शाह रुख़ और आदित्य चोपड़ा के मशवरे पर करण ने रानी को कास्ट किया, जिन्होंने राजा की आएगी बारात से डेब्यू किया था।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

All cartooned out 22 odd years later #Rahul #Anjali #22YearsOfAnjali #KKHHmemories

A post shared by Kajol Devgan (@kajol) on

कई साल बाद करण के हिट शो 'कॉफी विद करण' में ट्विंकल ने इस बारे में मज़ाक करते हुए कहा था कि रानी मुखर्जी का करियर मैंने बनाया है। मैं अपने करियर में एक ही हिट फ़िल्म दे सकती थी, वह फिल्म थी- 'कुछ कुछ होता है'.. लेकिन मैंने वह भी छोड़ दी और इस तरह से मैंने रानी मुखर्जी का करियर बना दिया। 

ऐसे हुई थी सलमान ख़ान की एंट्री

कुछ कुछ होता है में सलमान ख़ान का अमन का किरदार पहले सैफ़ अली ख़ान, अजय देवगन और चंद्रचूड़ सिंह  को ऑफ़र किया गया था, लेकिन वो इसके लिए तैयार नहीं हुए। बाद में चंकी पांडेय आयोजित पार्टी में सलमान ने करण से ख़ुद ही इस रोल को मांग लिया था।

गीता कपूर से लेकर मनीष मल्होत्रा तक ने किये कैमियो

इस फ़िल्म में शाह रुख़, काजोल, रानी और सलमान तो मुख्य किरदारों में नज़र आये थे, मगर कुछ ऐसे चेहरे भी जूनियर आर्टिस्ट्स के तौर पर दिखायी दिये थे, जो आज इंडस्ट्री में ख़ास जगह रखते हैं। करण की मॉम हीरू जौहर, कोरियोग्राफर गीता कपूर, सेलेब्रिटी फैशन डिज़ायनर मनीष मल्होत्रा, कोरियोग्राफर फ़राह ख़ान और निर्देशक निखिल आडवाणी भी अलग-अलग दृश्यों में दिखायी दिये थे। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021