अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। करण जोहर ने स्टार प्लस के शो 'इंडियाज नेक्सट सुपरस्टार' के सेट पर अपने बचपन से जुड़ा एक दिलचस्प वाकया शेयर किया है। उन्होंने बताया कि बचपन में करण के चलने और बोलने के अंदाज़ को लेकर उनका बहुत मज़ाक उड़ाया जाता था। करण ने यह राज़ तब खोला कि जब शो में एक कंटेस्टेंट लड़की के रूप में एक्ट कर रहे थे।

उन्होंने बताया कि स्कूल के लड़के उनको पैंसी कहते थे। चूंकि जो लड़के लड़कियों की तरह बोलते थे उन्हें इसी नाम से चिढ़ाया जाता था। बाद में करण इस बात से परेशान रहने लगे थे। लेकिन, फिर वह अपने टीचर के पास गए तो टीचर्स ने उन्हें कहा कि उन्हें इस बात से परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है और ना ही उन्हें खुद को बदलने की जरूरत है। वह जैसे है वैसे ही अच्छे हैं।

यह भी पढ़ें: Pics: एअरपोर्ट पर बोनी कपूर को गले लगाते दिखे बेटे अर्जुन कपूर, ख़ुशी और जाह्नवी भी थी साथ

इसके बाद से उन्होंने यही निर्णय लिया कि वह कभी भी अपनी इस चीज को अपनी कमजोरी नहीं मानेंगे। और उन्होंने अपनी जिंदगी से खुश होना और संतुष्ट रहना सीख लिया है। करण एन अपने बच्चों यश और रूही को भी सलाह देते हुए एक बात कही, उन्होंने यह भी तय किया है कि भविष्य में अगर उनके कोई भी बच्चे आकर उनसे इसी तरह बात करते हैं तो वह कभी भी उन्हें बदलने की कोशिश नहीं करेंगे। करण उन्हें खुद में विश्वास जगाना सिखाएंगे कि वह जैसे है बेस्ट हैं और उन्हें खुद के बारे में कुछ भी कमज़ोर बातें सोचने की जरूरत नहीं है।

Posted By: Shikha Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप